ई-कॉमर्स खबर व्यापार

Snapdeal के अधिग्रहण के प्रति प्रतिबद्धता को लेकर, Flipkart ने किया एक अनुबंध पत्र पर हस्ताक्षर

अपने प्रतिद्वंद्वी Snapdeal के अधिग्रहण के इरादे के प्रति प्रतिबद्धता को लेकर, Flipkart ने एक अनुबंध पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं | कंपनी अब अगले कुछ दिनों के भीतर वाणिज्यिक और वित्तीय परिश्रम भी करती नज़र आएगी  | और पत्रक पर Snapdeal का मूल्यांकन करीब 1 बिलियन डॉलर तक अंकित होने का अनुमान है |

हालाँकि यह कीमत अभी तक अंतिम तौर पर निश्चित नहीं है | Flipkart द्वारा Snapdeal के लेनदेन को लेकर अंतिम कीमत भी जल्द ही सामने आ सकती हैं | हालाँकि इस प्रक्रिया में कुछ महीनें लग सकते हैं और अंतिम मूल्य 1 बिलियन डॉलर के आसपास हो सकता है |

इस बीच, Snapdeal के परिप्रेक्ष्य से इस अधिग्रहण के लिए रास्ता बहुत अधिक प्रशस्त नज़र आ रहा है | अन्य शेयरधारकों के खिलाफ वीटो शक्तियों का संचालन कर सकने में सक्षम, Nexus Venture Partners एक मुख्य रोडब्लॉक था, लेकिन कुछ हफ्ते पहले इसने भी बिक्री के लिए अपनी स्वीकृति से दी थी और इसके बाद, अब नवीनतम विकास की उम्मीद की जा रही है |

इस बीच, Nexus ने यह सौदा 43 से 45 मिलियन डॉलर के बीच किया था | और यदि Flipkart अब Snapdeal को अधिग्रहित कर लेता है, तो Nexus के लगभग 60 मिलियन डॉलर के साथ इससे बाहर निकलने की संभावना है | इसी तरह, Kalaari Capital को Snapdeal में 8 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए मुआवजे के रूप में $30 मिलियन मिल सकतें हैं | साथ ही संस्थापकों कुणाल बहल और रोहित बंसल को सौदे से समान राशि प्रदान की जा सकती है | हालांकि, यह सब शेयरधारकों के अनुमोदन के अधीन है |

इन शेयरधारकों PremjiInvest, Ontario Teachers’ Pension Plan, eBay, Foxconn Technology Group, Alibaba Group, BlackRock, रतन टाटा और Tybourne Capital और Myriad Asset Management शामिल हैं |

जहां तक ​​हम जानते हैं, कंपनी में 1.17 फीसदी हिस्सेदारी रखने वाले PremjiInvest ने Snapdeal के पास पहुंच कर बिक्री की प्रकृति पर अधिक स्पष्टता मांगी है और यह भी स्पष्ट करने को कहा है कि बिक्री के बाद अल्पसंख्यक शेयरधारकों के हितों का प्रतिनिधित्व कैसे किया जाएगा ? Snapdeal में अल्पसंख्यक शेयरधारक कंपनी में करीब 40 प्रतिशत इक्विटी रखते हैं | इसलिए, सौदा तय होने के लिए उनकी अनुमति भी आवश्यक है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन