इंटरनेट खबर गूगल

नए ‘Emojis’ भी हैं ‘Android O’ की शानदार सुविधाओं का हिस्सा

Google I/O 2017 में मंच पर मुख्य भाषण के बाद से ही सब सब आगामी बहुप्रतीक्षित Android O अपडेट के बारे में बात कर रहे हैं | लेकिन लोगो ने इसके चलते एक और छोटे लेकिन शानदार बदलाव को दरकिनार कर दिया है |

दरसल, कई वर्षों की आलोचना के बाद Google ने अंततः अपने इमोजी (emojis) दिशानिर्देशों को अपडेट करने और उन्हें उद्योग मानकों के अनुरूप बनाने का निर्णय लिया है | जी हाँ ! इमोजी भी एक मानक है जो कि ज्यादातर तकनीकी दिग्गजों का पालन करते हैं |

पिछले पांच सालों से, Google सभी प्लेटफार्मों में अपने इमोजी को परिभाषित करने के लिए एक ब्लॉब-समान डिज़ाइन का उपयोग कर रहा है | लेकिन, अब कंपनी ने सामान्य परिपत्र इमोजी डिज़ाइन को अलविदा कहने का मन बना लिया है और नए परिपेक्ष में क़दम उठाये हैं |

दरअसल टेक्स्ट वार्तालापों के दौरान एक समस्या पैदा होती थी कि आपके द्वारा Google कीबोर्ड से भेजे गए इमोजी आपके मित्र के फ़ोन पर अलग तरीके से दिखाई देते थे | जिसका साफ़ सा मतलब है यह इमोजी के अपने अर्थ  को सार्थक बना पाने में विफ़ल साबित हो रहे थे |

लेकिन अब Google के मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम की अगली बड़ी पीढ़ी, Android O में एक अधिक पारंपरिक इमोजी डिज़ाइन को जगह दी गयी है | नए परिपत्र इमोजी में अब अधिक रंग, गहराई और एक्सेस के लिए उपलब्ध विकल्प मौजूद होंगें |

इसे Emojipedia द्वारा निम्नानुसार वर्णित किया गया है:

“ Android O में पुरान, गमड्रॉप चला गया है जिसकी जगह नए गोल स्माइली आकार वाले इमोजी ने ले ली है जो अन्य सभी ऑपरेटिंग सिस्टम के अनुरूप होगा ”  

ब्लॉब डिजाइन को पहली बार 2013 में शुरू किया गया था, जब Google ने Android Kitkat का शुभारंभ किया था | लेकिन अब अनुभवों में सुधार करते हुए Emoji 5.0 में कई नए इमोजी जोड़े जा रहें हैं | इस नए परिवर्धन में ताजे चेहरे, भोजन, खेल और काल्पनिक पात्र शामिल हैं | इसमें जिराफ, प्रेटेल, और डंपलिंग जैसी लोकप्रिय इमोजी भी शामिल हैं |

हालांकि, Android O (जो कि Oreo नाम दे पेश किया जा सकता है) पर इमोजी का नया सेट तैयार किया जा रहा है, जबकि Google पुराने Android डिवाइसों को भी भुला नहीं गया है | इन्हें भी एक अपडेट का वादा किया गया है | यह शर Gboard के लिए उपकरणों में प्रदान किया जा सके |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन