इलेक्ट्रानिक्स खबर

बेंगलुरू में आगाज़ के बाद, Xiaomi भारत में खोल सकती है 100 नए ‘Mi Home Stores’

चीनी तकनीकी दिग्गज़, Xiaomi भारत में 100 नए भौतिक स्टोर खोलने की योजना बना रही है | कंपनी बेंगलुरु में अपना पहला Mi Home स्टोर लॉन्च करने जा रही है, जिसके इस महीने की 20 तारीख को जनता के लिए खोले जाने की उम्मीद है |

ET के साथ बातचीत में Xiaomi India के प्रबंध निदेशक मनु कुमार जैन ने कहा कि उनकी कंपनी दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और चेन्नई जैसे सभी स्थानों पर इसी तरह के स्टोर्स लॉन्च करेगी | उन्होंने यह भी कहा कि कंपनी 2 वर्षों के दौरान पूरे भारत में 100 ऐसे स्टोर लॉन्च करने की योजना बना रही है |

Mi.com और Mi Home के बहुत मजबूत संबंध है, ये दोनों जगह सीधे उपभोक्ता को उपकरण बेचती हैं | यह लगभग ई-कॉमर्स व्यवसाय की तर्ज़ पर ही कुशल हो सकता है | ये एक ही व्यापार के दो रूप हैं |

Xiaomi ने पिछले साल मार्च में एक लाइसेंस के लिए आवेदन किया था, जिससे यह देश में अपने ब्रांडेड स्टोर संचालित करने में सक्षम होगा | कंपनी का इरादा सभी बिक्री पद्धतियों, ऑनलाइन और ऑफ़लाइन जैसे सभी संभावित चैनलों का लाभ उठाना है |

Mi Home स्टोर अब तक कंपनी द्वारा देश में लांच किये गए सभी उत्पादों से लैस होगा | ये सभी स्टोर एक अनुभव क्षेत्र का गढ़ भी होंगें, जो कि भारत में अभी तक नहीं हैं |

कंपनी आगे भी भारत में अधिक इंटरनेट कनेक्टेड पारिस्थितिक तंत्र उत्पाद की पेशकश करने की योजना बना रही है | देश में इंटरनेट पैठ के तेजी से विकास को देखते हुए, यह चीनी कंपनी द्वारा लिया गया एक चतुर निर्णय प्रतीत होता है |

हम एक बड़ी प्रतिबद्धता पर कार्य कर रहें हैं, Mi Home सभी उत्पादों के स्टॉक संयोजित रखेगा और अगर कोई ऐसा स्टॉक हुआ जो मौजूद नहीं है तो हम ग्राहक को एक F-कोड सौंपेंगे, जिससे वह mi.com पर उत्पाद खरीद सकें (भले ही वह स्टॉक में प्रदर्शित न हो)

कंपनी वर्तमान में चीन में करीब 75 स्टोर संचालित करती है, और ये अभी तक बहुत अच्छी तरह से इस कार्य को कर रहे हैं |  हालांकि आगे बढ़ने के लिए भारत निश्चित तौर Xiaomi के लिए एक अच्छा बाज़ार है | पिछले ही साल कंपनी ने पहली बार देश में बिक्री के आँकड़े को $1 बिलियन तक पार किया था |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन