एंटरप्राइज टेक खबर

Router बाज़ार को भी Jio ने किया गंभीर रूप से प्रभावित: IDC

मुकेश अंबानी ने जब हर किसी के लिए डेटा और वॉयस कॉल मुफ्त बनाने का फैसला किया, तब भारत में वह एक छोटी सी क्रांति के रूप में देखा और महसूस किया गया | जाहिर है, इसका मुकाबला करने के लिए अन्य दूरसंचार ऑपरेटरों ने भी कई बड़े फ़ैसले किये, यहाँ तक कि ज्यादातर प्रमुख खिलाड़ी विलय और अधिग्रहण के बारे में बातचीत करते हुए दिखाई पड़े | और अब इसी तर्ज़ पर Jio अब रूटर बाजार को भी प्रभावित करने की तैयारियों में है |

International Data Corporation की एक रिपोर्ट के मुताबिक रूटर यूनिट शिपमेंट्स में करीब 19% गिरावट आई है | इससे 2016 की आखिरी तिमाही में विक्रेता राजस्व में भी 22 फीसदी गिरावट आई है |

दरसल इसका कारण कुछ और नहीं बल्कि Jio सिम युक्त स्मार्टफोन में हॉटस्पॉट क्षमता और कही हद तक सर्कार की विमुद्रीकरण नीति रही |

Netgear, Digisol और TP Link सहित सभी प्रमुख खिलाड़ियों की घरेलू और कार्यालय दोनों उपयोगकर्ताओं की मांगों में तेज गिरावट आई है | इन दोनों सेगमेंट में रूटर की कीमत 5000 रुपये होती है और यह विचार करते हुए कि Jio हॉटस्पॉट्स इस उद्देश्य को बहुत ही अच्छी तरह से पूर्ण कर रहा है, यह गिरावट प्रत्याशित कही जा सकती है |

भारत और SAARC के Netgear कंट्री मैनेजर, महेतेश नागेन्द्र ने ET को बताया,

“ कम अंतर वाले रूटर बाजार को मुफ्त डेटा (Jio द्वारा प्रस्तुत) ने गंभीर रूप से प्रभावित किया गया है ”

दिलचस्प बात यह है कि, नवम्बर 2016 और जनवरी 2017 के महीनों में ऑनलाइन मार्केटप्लेस जैसे कि Amazon और Flipkart ने अचानक रूटर इन्वेंट्री में विशाल उछाल देखा, जिसका कारण था इनकी बिक्री का अत्यधिक कम होना |

और जाहिर है बेहद रियायती डेटा पैक के साथ Jio के मुफ्त हॉटस्पॉट ने इनकी भूमिका निभाने का कार्य शुरू कर दिया था | कंपनी ने 2016 और 2017 के बीच लगभग 3 मिलियन उपकरणों को बेचा, साथ ही अंतिम तिमाही में 50 प्रतिशत से अधिक बिक्री हो रही है |

और क्या आपको पता है ? Jio फिलहाल एक रूटर पर 100 प्रतिशत नकदी वापस दे रहा है, जिसकी कीमत 1,999 रुपये है | और साथ ही आपको 5GB के 10 मुफ्त वाउचर मिलते हैं जो 10 महीने की अवधि में उपयोग किए जा सकते हैं |

खैर ! यह समझना आसान हो जाता है कि लोग Jio के रूटरों को संस्थापक खिलाड़ियों के मुकाबले पसंद क्यों करते हैं |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन