खबर

WhatsApp ने iCloud बैकप में प्रदान किया इंक्रिप्शन

WhatsApp ने बिना अधिक हो-हल्वा किये, WhatsApp के iCloud बैकप की सुरक्षा बढ़ा दी है। बाकप में कमज़ोरी के कारण, लोगों की इनक्र्प्ट हुई चैट पढ़ने योज्ञ हो जाती थी। ये या तो Apple के ज़रिया जातर हो सकता है (क्योंकि उनके पास iCloud की की होती है) या फिर अगर कोई हैकर आपका iCloud अकाउंट हैक कर ले तब।

WhatsApp ने अपने iCloud बैकप में पिछले वर्ष ही इंक्रिप्शन डाल दिया था। परंतु उन्होंने इसका बखान नहीं किया और इसकी जानकारी अब सामने आयी है। और कमाल की बात ये है कि इसका ख़बर तब आयी, जब एक कंपनी ने कहा कि वे इस फ़ीचर को पछाड़ चुके हैं।

हम Oxygen Forensics की बात कर रहे हैं और उनका दावा है कि अगर आपके पास उसी नंबर की सिम कार्ड है, जिसका उपयोग कर के WhatsApp ने iCloud का इंक्रिप्शन कोड जनर्ट किया था, तो आप भी इसे हैक कर सकते हैं। बात मूलतः ये है कि iCloud से फ़ाइल डाउनलोड करने के बाद, Oxygen Forensics का कहना है कि वे इसकी इंक्रिप्शन की निकाल सकते हैं, जिसके बाद डेटा को आसानी से पढ़ा जा सकता है।

इससे बात ये उठती है कि WhatsApp को बैकप को इंक्रिप्ट करने की ज़रूरत पड़ी क्यों? हम एर बहुत ही विचित्र समय में आ खड़े गुए हैं, जहां निजी कंपनियां, अपने उपभोक्ताओं की निजिता को सुरक्षित रखने का प्रयास कर रही हैं और सरकारी एजंसियां इसका विरोध ये कह के कर रगी हैं, कि इससे देश की सुरक्षा प्रभावित होगी।

उदाहरण को लिये FBI एंड-से-एंड इंक्रिप्शन पर हमेशा के लिये रोक लगवाने का प्रयास कर रही है। परंतु WhatsApp और उनके सभी समकक्षी इसका विरोध कर रहे हैं। कंपनी को इसकी वजह से बहुत निंदा का सामना करना पड़ा है और ब्राज़ील जैसे तुछ देशों में वो कई बार बैन भी हो चुके हैं। परंतु दिस तरह से वे बैकप को भी इंक्रिप्ट कर रहे हैं, हमें नहीं लगता कि WhatsApp और उनकी अभिभावक कंपनी Facebook इतनी जल्दी हार मानेगी।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन