एप्पल खबर

Apple ने स्वचलित वाहनों में चालकों के लिये तैयार किया एक सुरक्षा का तरीका

स्वचलित वाहनों के परीक्षण के दौरान उनमें आम तौर पर एक चालक होता है, जो कि तकनीकी खराबी आने पर कार को संभाल लेता है। अब उन चालकों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिये, Apple ने एक नया तरीका ढूंढ़ निकाला है।

इस बात की खबर Business Insider ने एक पबलिक रिकॉर्ड आवेदन से पायी। इन दस्तावेंज़ों से पता लगता है कि Apple ने अपने स्वचलित वाहनों को विकसित करने के लिये क्या तरीके इस्तेमाल किये हैं और वे अपनी कारों का सड़क पर परीक्षण करने हेतु कैलिफ़ोर्निया के मोटर वाहन डिपार्टमेंट (DMV) के नियमों का पालन करने के लिये कौन सी अनोखी तरकीब इस्तेमाल करेंगे।

इस महीने की शुरवात में, कैलिफ़ोर्निया DMV ने Apple को अपने स्वचलित वाहनों का परीक्षण कैलिफ़ोर्निया की सड़कों पर करने की अनुमती दी थी। ये बहुत ही महत्वपूर्ण है, क्योंकि मशीन लर्निंग और वो तकनीक कैसे दुनिया की सिचुएशन में प्रतिक्रिया देती है, दोनों का परीक्षण होता है।

अब सड़कों पर वाहन भेजने से पहले Apple को अपने चालकों को कार का सिस्टम ओवरराइड कर के कंट्रोल अपने हाथ में लेना सिखाना होगा। इस सुरक्षा तकनीक को कागज़ातों में ‘Apple Automated System’ कहा गया है।

इनके मुताबिक, Apple के चालकों को सात अलग-अलग परीक्षण पार करने होंगे। हर चालक को दो प्रैक्टिस रन और तीन ट्रायल पास करने होंगे, टेस्ट पार करने के लिये। उन्हें वाहन का मैनुअल कंट्रोल लेने के लिये भी तैयार रहना होगा।

Apple ने तीन Lexus RX450h SUV चलाने के लिये छः चालकों के लिये आवेदन दिया है। इस आवेदन में दिये गये चालकों के नाम अधिकतम मशीन लर्निंग में Ph.D वालों के हैं। कुछ ने इससे पहले Bosch व Tesla के लिये भी काम किया है।

परंतु इन दस्तावेज़ों में Apple की स्वचालन तकनीक को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गयी है। इसमें बाज़ार को लेकर Apple की महत्वाकांक्षाओं या रणनीति के बारो में भी कुछ नहीं बताया गया है।

परंतु इससे ये ज़रूर पता चलता है कि ये कंपनी बिलियनों के स्वचलित बाज़ार को लेकर कितनी संगीन है। यहां उनको अपने पैर जमाने के लिये Google, Uber व Tesla जैसी कंपनियों से कड़ा प्रतिद्वंद करना होगा।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन