खबर भविष्यकाल

Georgia Tech ने ऐसे 4D प्रिंट बनाए, जो गर्मी से बदल सकेंगें अपना आकार

3-D प्रिंटिंग से मॉडलिंग व प्रोटोटाइपिंग का तरीका ही बदल गया है| कुछ और बहतरियों के साथ, ये सभी के लिये भी उपलब्ध हो सकती है| Georgia Tech के वैज्ञानिकों ने एक ऐसी नयी तकनीक निकाली है, जिससे वे ऐसे प्रोडक्ट बना सकते हैं, जो प्रिंट बेड से निकलने के बाद अपना आकार बदल सकते हैं|

कई ऐसे तरीकों में, इस प्रक्रिया के लिये हाइड्रो जेलों का उपयोग किया जाता है| तो हम कुछ वैसी ही चीज़ की बात कर रहे हैं, परंतु ये बिलकुल भी हाइड्रो जेल जैसा नहीं है| हाइड्रो जेल उपयोग करने का मतलब है कि बदलाव बहुत ही धीमा होगा और तुरंत वापस उसी चीज़ में भी बदल जायेगा| आम तौर पर ये पॉलिमर तुरंत ही अपने असल रूप में आ जाता है, बदलाव होते-होते ही| परंतु Georgia Tech की प्रक्रिया से वस्तु तापमान के आधार पर, अपने आकार में ही रहेगी| ये बदलाव होने में करीब 5 सेकेंड का समय लगता है|

वैज्ञानिक प्रिंट में परिवर्तन होने के लिये ज़रूरी बदलाव कर रहे हों, उससे पहले ही बता सकते हैं कि उस वस्तु का अंतिम आकार क्या होगा| संभवतः आप प्रिंटिंग मापदंडों और स्ट्रक्चरों में बदलाव लाकर इसके अंतिम आकार को भी बदल सकते हैं|

तकनीक का अनेक क्षेत्रों में बहुत सा प्रयोग हो सकता है| उदाहरण के लिये, एक निश्चित तापमान पर खुलने वाले दरवाज़े या खिड़कियां, त्वचा के संपर्क में आकर कड़े हो जाने वाले प्रॉस्थेटिक|

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन