INTERNET News

27-29 सितंबर के बीच दिल्ली में आयोजित होगा ‘Mobile World Congress का भारतीय संस्करण’

GSM एसोसिएशन, या GSMA से न सूनने की बजाए, दूरसंचार उद्योग निकाय सेल्यूलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COIA) अब  दूरसंचार विभाग (DoT) और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) के समर्थन के साथ Mobile World Congress (MWC) का भारतीय संस्करण सितम्बर में प्रदर्शित करने जा रहा है | लगभग 15 करोड़ रुपये के बजट के साथ, यह कार्यक्रम 27 से  29 सितंबर 2017 तक दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित किया जाएगा |

IANS के साथ वार्ता में, COIA के महानिदेशक राजन एस. मैथ्यूज ने कहा,

“ हमें लगा कि हमें भारत में एक प्रमुख आयोजन की जरूरत है, पश्चिम में हमारे पास बार्सिलोना कार्यक्रम (MWC) है, पूर्व में शंघाई MWC है, लेकिन दक्षिण-पूर्व एशिया के लिए उस पैमाने पर अभी कुछ भी नहीं था,  इसलिए यह कार्यक्रम (भारत MWC) इस उद्देश्य की पूर्ति करेगा ”

यह उम्मीद की जा रही है कि यह आयोजन स्वीडन, इजरायल और यूके सहित 8 से 10 देशों की मेजबानी करेगा | एसोसिएशन इस कार्यक्रम को एक वार्षिक शो में बदलने की कोशिश कर रहा है, और शायद इसलिए इसे बार्सिलोना के MWC के बाद तैयार किया जा रहा है | कार्यक्रम के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में नियुक्त किए गए, पी. रामकृष्ण ने आगे कहा कि यह एक रूप में बिज़नेस-टू-कंजूमर और बिज़नेस-टू-गवर्नमेंट आयोजन होगा | हालांकि, तीसरे दिन सार्वजनिक प्रविष्टि को नाममात्र शुल्क के साथ स्वीकार किया जाएगा |

कार्यक्रम के लिए तैयार एक सलाहकार समिति के मार्गदर्शन में पिछले छह महीनों से इस आयोजन की तैयारी चल रही है | समिति की अध्यक्षता में दूरसंचार विभाग के सचिव हैं और वहीं अरुणा सुंदरजन (सचिव, MeitY) को उप-सभापति के रूप नामित किया गया है | कार्यक्रम में 300 स्टालों के साथ क़रीब 2,000 वर्ग मीटर क्षेत्र में आयोजित किया जाएगा |

कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी देते हुए रामकृष्ण ने कहा,

“ हम प्रदर्शकों सहित 8,000 प्रतिनिधियों के इस कार्यक्रम में भाग लेने की उम्मीद करते हैं, यह कार्यक्रम उद्योग का एक 360 डिग्री दृश्य देगा, जहां मूल उद्योग, मूल उपकरण निर्माता और हैंडसेट निर्माताओं इत्यादि लोग शामिल होंगे ”

इस कार्यक्रम को विभिन्न संगठनों से मंजूरी मिली है, जिसमें नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज कंपनियों (नासकॉम), इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया, इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया शामिल हैं | यह समिति स्टार्ट-अप और AI-फोकस कंपनियों को इस घटना में भाग लेने के लिए भी आमंत्रित करेगी और वर्तमान में यह एफआईसीसीआई के साथ एक मंजूरी के लिए बातचीत कर रही है |

यह आयोजन दक्षिण-पूर्व एशियाई बाजार के अंतर को कम करने और हमारी अर्थव्यवस्था को बढ़ाने के लिए, मददगार साबित होगा | भारत दूरसंचार क्षेत्र के में वैश्विक नेताओं में से एक के रूप में उभर रहा है और यह भारतीय मोबाइल कांग्रेस के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन