Google News

Google के Project Loon के निदेशक माइक कैसिडी, Apollo Fusion के साथ कर रहे हैं न्यूक्लियर ऊर्जा का रुख

एक पूर्व Google कर्मचैरी ने उनके Project Loon से एक चौंका देने वाला बदलाव कर के न्यूक्लियर ऊर्जा की तरफ़ रुख कर लिया है| माइक कैसिडी के नये व अनोखे से पुराने और पारंपरिक क्षेत्र में जाने की उम्मीद नहीं करी जा सकती है| एक अमेरिकी उद्यमी कैसिडी, चार इंटरनेट स्टार्टपों के संस्थापक व सी.ई.ओ. रह चुके हैं – Stylus Innovation, Direct Hit, Xfire और Ruba.com| परंतु पिछले चार वर्षों से वे Google के साथ काम कर रहे हैं और Project Loon की अगुवाई भी|

कैसिडी, Apollo Fusion से जुड़ रहे हैं| जैसा कि नाम से ही पता चलता है, ये स्टार्टप न्यूक्लियर ऊर्जा से संबंधित है| ये स्टार्टप, न्यूक्लियर रियैक्टरों का तकनीक को बहतर बना कर उस स्तर तक लाना चाहता है,  जहां ये

सभी को सुरक्षित, साफ़ और सस्ती ऊर्जा उपलब्ध कराये|

कंपनी ऐसे न्यूक्लियर रियैक्टरों पर काम कर रही है, जिससे, Apollo Fusion की वेबसाइट के मुताबिक, वे छोटे शहरों से लेकर बड़े शहरों तक को ऊर्जा उपसब्ध करायेंगे| AF के रियैक्टरों से निकली ऊर्जा, एमिशन मुक्त, सुरक्षित व सस्ती होगी|

 

Apollo Fusion, दरसल फ़्यूज़न आधारित ही है| इसमें दरसल दो परमाणुओं को जोड़ा जाता है| इसी ऊर्जा से सूर्य की रौशनी भी आती है| और अब Apollo Fusion ये तकनीक सभी के पास लेकर आना चाहते हैं| और जहां तक परमाणू ऊर्जा की बात है, तो कंपनी ने दाव किया है कि उनका परम उद्देश्य सुरक्षा ही है|

Apollo Fusion के रियैक्टरों को कूलिंग या कोई भी अन्य परेशानी आने पर कोई भी नुक़सान न होने के लिये बनाया जा रहा है और ये पिघलेंगे भी नहीं|

जब सूर्य ऊर्जा जैसे सुरक्षित विकल्प उपलब्ध हैं, तब तक लोगों को न्यूक्लियर रियैक्टर खरीदने के लिये मनाना मुश्किल हो सकता है| परंतु Apollo Fusion, इसके लियो बहुत ही आशान्वित है|

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन