App Digital India News

कल अहमदाबाद में ’10 हजार से अधिक प्रोग्रामर’ करेंगें “स्मार्ट इंडिया हैकथॉन” कार्यक्रम में भागीदारी

भारत में Hackathons संस्कृति का महत्व बढ़ता ही नज़र आ रहा है और सरकार भी अब इसके समर्थन में खड़ी हुई है | इसी के चलते भारत अब देश के विभिन्न शहरों से संबंधित 10,000 से अधिक डेवलपर्स की भागीदारी के साथ दुनिया का सबसे बड़ा ‘Hackathons कार्यक्रम’ आयोजित करेगा |

‘स्मार्ट इंडिया हैकथॉन’ नामक यह कार्यक्रम भारत में मौजूद सामाजिक समस्यायों को सुलझाने के लिए एक अभिनव डिजिटल व्यवसाय मॉडल (मोबाइल या डेस्कटॉप ऐप के रूप में) बनाने की एक प्रतियोगिता है | यह आयोजन कल शुरू होगा और अहमदाबाद में लगातार 36 घंटों तक चलेगा |

टीमें, 1 अप्रैल को सुबह 8.30 बजे से कोडिंग शुरू कर, 2 अप्रैल को 6.00 बजे तक कोडिंग करना बंद करेंगी | अंतिम निर्णय की शुरुआत 2 अप्रैल को शाम 6.00 बजे के बाद से की जाएगी और परिणाम 2 अप्रैल को 8.00 बजे घोषित किए जाएंगे | Hackathons के विजेताओं को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा सम्मानित किया जाएगा, जिसमें नकद पुरस्कार भी शामिल होगा | विजेता के लिए 1 लाख रूपये और रनर-अप के लिए 75,000 और 50,000 रूपये का पुरस्कार तय किया गया है |

इसके अलावा, सम्माननीय प्रधान मंत्री, नरेंद्र मोदी लाइव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में मौजूद आविष्कारकों को संबोधित करेंगे |

सरकार ने 29 मंत्रालयों और विभागों की कार्यप्रणाली में मौजूदा समस्याओं की पहचान की है | उन्होंने 598 समस्याओं की पहचान की, जिसे करीब 42,000 संख्या वाली छात्रों की 7,531 टीमों द्वारा सुलझाने का प्रयास के लिए पंजीकृत किया और इनमें से अंतिम दौर के लिए 10,000 से अधिक प्रतिभागियों की 1,266 टीमों को चुना गया है |

टीमों को प्रतियोगिता के लिए कच्चे कोड लाने की अनुमति दी जाएगी | वे यूआरआई के लिए वायर फ्रेम तैयार कर सकते हैं, जो कि कार्यक्रम के दौरान आसानी से उत्पाद बनाने में मदद करेगा | प्रतियोगिता के दौरान सुझावों के आधार पर, टीमों को अपने कोड को संशोधित करने और उनके समाधान को मजबूत करने की आवश्यकता भी पड़ सकती है |

इस’ स्मार्ट इंडिया हैकथॉन -2017’ का प्राथमिक उद्देश्य राष्ट्र निर्माण के लिए सीधे युवाओं की रचनात्मकता और ऊर्जा को एक स्थायी मंच प्रदान करने का है | इन डेवलपर्स द्वारा विकसित समाधानों का मंत्रालय और उद्योग विशेषज्ञों द्वारा उपयोग किया जाएगा | यह समाधान मोबाइल ऐप द्वारा या डेस्कटॉप के माध्यम से कार्यात्मक होना चाहिए |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन