INTERNET News

यौन उत्पीड़न के आरोप में TVF के सीईओ, अरुणभ कुमार के खिलाफ दर्ज की गई FIR

हाल ही में TVF के सीईओ अरुणभ कुमार पर एक अज्ञात ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से एक पूर्व महिला TVF कर्मचारी ने “दुरुपयोग और छेड़छाड़” का आरोप लगाया था | हालांकि, सबूतों की कमी और FIR की अनुपस्थिति के कारण, मुंबई पुलिस विभाग मामले को हमेशा के लिए बंद करने के कगार पर था |

लेकिन, इन मामले ने अब एक नया मोड़ लिया है, दरसल इस गंभीर घटना के चलते, यौन उत्पीड़न के आरोप में कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है | इससे भी ज्यादा रोचक बात यह है कि जिस महिला के बारे में हम बात कर रहे हैं वह TVF की वर्तमान कर्मचारी है, जिसका दावा कई मीडिया रिपोर्टों और सूत्रों ने किया है | एक वर्तमान कर्मचारी होने के नाते यह FIR का ठोस आधार है, हालाँकि कई अन्य अस्पष्ट तथ्यों का अभी सामने आना बाकी है |

कुमार के खिलाफ प्राथमिकी धारा 354 के तहत दायर की गई है (महिला की विनम्रता को अपमानित करने के इरादे से महिला पर आक्रमण या आपराधिक बल का प्रयोग करना) | मुंबई के अंधेरी पूर्व में MIDC पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है |

हालाँकि इसका सिद्दीकी की रिपोर्ट के साथ कोई संबंध नहीं है, साथ ही FactorDaily ने यह पुष्टि की है कि पुलिस की कार्रवाई उनकी शिकायत का परिणाम नहीं है, लेकिन वास्तव में यह एक नई शिकायत का की वजह से की गई है | इसके अलावा, उन्होंने कहा,

“ मुझे खुशी है कि जो लोग भी आगे आए हैं उन्होंने इस मामले में पुलिस जाँच संभव बनाया है, क्योंकि मेरी राय में यह यह कार्यवाई पिछले शिकायत के संबंध में नहीं हुई है ”

वहीं कंपनी के पक्ष में बोलते हुए अभिनेत्री, निधि सिंह जो की वर्तमान में TVF के साथ काम करती है, ने कहा कि उन्होंने TVF में एक सहयोगी के रूप में काम किया है और इस दौरान कंपनी के बारे में कुछ भी नकारात्मक नहीं पाया है | उन्होंने अपने ट्वीट के जरिए भी इसकी पुष्टि की,

दरसल, यह पूरी घटना 13 मार्च को हुई थी, जब एक पूर्व TVF कर्मचारी ने Medium पर एक अनाम ब्लॉग पोस्ट के जरिये TVF के सीईओ, कुमार पर कार्यस्थल में यौन उत्पीड़न के आरोप लगाये थे | इस घटना के बारे में आप पूरी जानकारी हमारी पिछली रिपोर्ट के जरिये यहाँ क्लिक कर प्राप्त कर सकतें हैं |

इसके बाद, TVF की एक अन्य कर्मचारी आयुषी अग्रवाल ने ब्लॉग पोस्ट के टिप्पणी अनुभाग में उस आरोप लगाने वाली गुमनाम कर्मचारी का समर्थन में किया |

वही इसके बाद, कई अन्य महिलाएं भी स्वयं के साथ घटी घटनाओं और कुमार के खिलाफ कुछ सबूतों को लेकर सामने आईं, जिसे लेखक, निर्देशक और स्टाइलशीट वीडियो कंटेंट स्टार्टअप, CATNIP की सह-संस्थापक, रीमा सेनगुप्ता द्वारा सार्वजनिक किया गया |

अरुणभ और TVF दोनों के लिए यह सब काफ़ी गंभीर दौर साबित हो सकता है | कंपनी के सीईओ के खिलाफ एक प्राथमिकी, कंपनी की ब्रांड को नष्ट करने के लिए काफ़ी होती है और ख़ास तौर पर जब आप युवाओं के बीच अपनी लोकप्रियता अर्जित करने के प्रयास कर रहें तो तब |

इस बीच इस घटना से जुड़ी हर ताज़ा ख़बर हम आप तक पहुँचाते रहेंगें, जिसके लिए आप हमारे साथ जुड़े रहिये |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन