App Apple News

एप्लिकेशन के नाम में कीमत का जिक्र होने पर, आपके एप्लिकेशन को App Store पर ब्लॉक कर देगा Apple

ऐसा प्रतीत होता है कि Apple यह नहीं चाहता है कि उपयोगकर्ता Meta डेटा के साथ अपने एप्लिकेशनों की कीमत भी प्रदर्शित करने हेतु जमा करें | फ़िर चाहे वह स्क्रीन शॉट्स के रूप में हो या ऐप के नाम के साथ, लेकिन कंपनी डेवलपर्स को कीमत का प्रचार करने देना नहीं करना चाहती है | कंपनी ने अपने इन्हीं प्रयासों के चलते कंपनी अब अपने ऐप स्टोर अब एप्लिकेशनों को ब्लॉक करने की कवायद शुरू की है, जिनके नाम या स्क्रीन शॉट्स में किसी भी तरह से उपयोगकर्ताओं मूल्य निर्धारण के संकेत दिए जातें हैं |

यह कदम नकारात्मक विज्ञापन के एक तरीके को डेवलपर्स के साथ मिलकर खत्म करने की पहल के रूप में शुरू किया गया है,जो इस प्रतियोगी विज्ञापन के दौर में विज्ञापन को नए स्तरों तक ले जाएगा और अब एप्लिकेशनों के नाम पर “निःशुल्क” शब्द का उल्लेख करना होगा |

यह विशेष रणनीति बिल्कुल नई नहीं है, डेवलपर्स कई दफ़े अपने एप्लिकेशन के नाम के मध्य में या इसके बीच में या बाद में “निःशुल्क” शब्द को सम्मिलित कर उपयोगकर्ताओं को रिझाने की कोशिश करते रहें हैं | और बेशक यह अन्य ऐप डाउनलोड्स पर प्रभाव डालता है, क्योंकि हमारी प्रवृति हमेशा ही मुफ्त सामानों के प्रति आकर्षण की रहती है 😉

Apple ने अपने कई साहित्यिकों में इस तरह के व्यवहार को नाकारा है, जिसमें कंपनी द्वारा डेवलपर iTune Connect संबंधी मार्गदर्शिका और AppStore में पेजों की समीक्षा आदि शामिल हैं | फिर भी, ‘नि: शुल्क’ शब्द का उपयोग निरंतर ही होता रहा है | लेकिन अब Apple सख्त रुख अपनाते हुए, इन तरीकों पर विराम लगाने की योजनायें बना रहा है, और जिसके चलते इसने अब ऐसे एप्लिकेशनों को ब्लॉक करने की प्रक्रिया शुरू की है |

नीचे जारी किए संदेश से यह स्पष्ट है कि ऐसा क्यों हो रहा है:

“ App Store पर प्रदर्शित होने वाले आपके ऐप के नाम, आइकन, स्क्रीनशॉट या पूर्वावलोकन में आपके ऐप की कीमत के संदर्भ शामिल हैं, जो इन Meta डाटा आइटमों का हिस्सा कदापि नहीं हैं ”

“ कृपया अपने ऐप के नाम से आपके ऐप के मूल्य के किसी भी संदर्भ को हटा दें, जिसमें आपके ऐप के किसी भी संदर्भ में मुफ्त या रियायती जैसे रिझाऊ शब्दों  का इस्तेमाल हुआ हो, यदि आप अपने ऐप की कीमत में परिवर्तनों को विज्ञापित करना चाहते हैं, तो ऐप विवरण में इस जानकारी को शामिल करना उचित होगा, iTune Connect के मूल्य निर्धारण और उपलब्धता अनुभाग में आपके ऐप की कीमत में परिवर्तन किया जा सकता है ”

जहां तक ​​मौजूदा एप्लिकेशनों की बात है, तो Apple ऐसे एप्लिकेशनों के अपडेट की अस्वीकृति करने की प्रक्रिया का आगाज़ कर सकता है, जिसमें ऐप की कीमत संबंधी संदर्भ शामिल हों |

यह प्रकिया कुछ हद तक आश्चर्यजनक इसलिए भी है क्योंकि न तो Google, न ही Microsoft ऐप के नाम को लेकर ज्यादा तकनीकी विषयों का ध्यान देते हैं | लेकिन शायद तभी Apple ख़ुद में बहुत विशिष्ट है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन