इंटरनेट खबर डिजिटल इंडिया

दूर-दराज़ के 500 रेलवे स्टेशनों पर “वाई-फाई” सुविधा प्रदान करेगा भारतीय रेलवे, मिलेगा रोज़गार का अवसर

दुनिया के तीसरे सबसे बड़े रेल नेटवर्क होने के बावजूद, भारतीय रेलवे में अभी भी आवश्यक बुनियादी ढांचे और सुविधाओं की कमी कम नहीं है | दूरदराज के इलाकों में आज भी कई लोग ई-सेवाओं से वंचित हैं, जिसका कारण, प्रमुख नेटवर्क कंपनियों द्वारा सेवाओं का प्रदान न किया जाना या निजी टेलीकॉम कंपनियों द्वारा चार्ज की उच्च दरें हैं | ऐसे इलाकों में प्रवेश कर यात्रियों को इन सुविधाओं से लैस करने के लिए, भारतीय रेलवे अब 500 से अधिक दूरस्थ स्टेशनों पर वाई-फाई की सुविधा प्रदान करने जा रही है |

इस परियोजना को ‘Railwire Saathi’ का नाम दिया गया है, जिसका इसका उद्देश्य ई-सेवाओं तक मुफ्त पहुंच प्रदान करना और देश में उपलब्ध विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी का प्रसार करना है | इन सेवाओं में ई-टिकटिंग, ऑनलाइन बैंकिंग, स्वचालित फॉर्म फ़िलिंग, मोबाइल और डीटीएच रिचार्ज, अन्य सेवाएं शामिल हैं | यह स्कूल फीस, बीमा पॉलिसियों, प्रधान मंत्री उज्ज्वल योजना, प्रधान मंत्री मुद्रा योजना, प्रधान मंत्री अटल पेंशन योजना, प्रधान मंत्री जीवन बीमार योजना जैसे चीज़ों की सम्पूर्ण जानकारी से अवगत कराने की सुविधा उपलब्ध कराएगी |

जैसा कि एक वरिष्ठ रेल मंत्रालय के अधिकारी ने Financial Express को बताया कि यह परियोजना मई 2017 तक शुरू होने की उम्मीद है | इसके अगला लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचलित बेरोजगारी संकट को खत्म करने का भी होगा | मंत्रालय ने घोषणा की है कि इस पहल की दोहरी मंशा है, जो साफ़ तौर पर कनेक्टिविटी और रोजगार है | देश में डिजिटलीकरण अभियान के अंतर्गत, ये सुविधाएं Google के साथ साझेदारी में प्रदान की जा रही हैं |

वर्तमान में Railtel (भारतीय रेल की दूरसंचार शाखा) इस परियोजना के निष्पादन की जिम्मेदारी निभा रही है | एक बार परियोजना के कार्यात्मक होने पर, Railwire Saathi नामक इस सुविधा के निष्पादन के चलते बेरोजगार युवाओं को भी मौका दिया जा सकता है |

इसके अलावा लाभों का विवरण देते हुए अधिकारी ने कहा,

“ Railwire Saathi एक वाई-फाई उद्यमिता मॉडल है, जहां बेरोजगार युवाओं, विशेष रूप से महिलाओं को प्रशिक्षित किया जा सकता है और साथ ही यह वाई-फाई हॉटस्पॉट को स्थापित करने और ऑनलाइन सेवाओं के लिए एक मंच प्रदान करता है जो व्यापार को स्थायी बनाने का भी कार्य करेगा ”

Railtel द्वारा प्रदान किए गए प्रशिक्षण के साथ ही, छात्रों को प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा | ये प्रमाण पत्र मुद्रा योजना के अंतर्गत ऋणों को हासिल करने के कारण के रूप में भी कार्य करेगा। Railtel डिज़ाइन के मुताबिक वाई-फाई हॉटस्पॉट्स को स्थापित और प्रबंधित करने के लिए उनका इस्तेमाल किया जाना चाहिए | इससे बेरोजगार नागरिकों को एक सुरक्षित रोजगार का अवसर देने में मदद मिलेगी | वर्तमान में प्रशिक्षण कार्यक्रम के अनुमोदन के लिए मंत्रालय राष्ट्रीय कौशल विकास परिषद (एनएसडीसी) के साथ बातचीत कर रहा है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन