एप्पल खबर गैजेट्स

‘एड्स के प्रति जागरूकता’ फ़ैलाने के इरादे से Apple ने लॉन्च किए “लाल रंग के iPhone 7”

कल, Apple ने एक चमकदार लाल iPhone 7 लाइनअप के लॉन्च के साथ दुनियाभर के iPhone प्रेमियों को आकर्षित करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया | इस लॉन्च के जरिये इस दिग्गज़ कंपनी ने एक उदार और दानशील रुख का समर्थन दर्शाया है |  लेकिन वहीं कुछ अज्ञात कारणों से, Apple ने चीन बिना किस उदार रुख के तौर पर, यह लाल iPhone वहाँ के बाज़ार में उतारने के फ़ैसला किया है |

जो लोग अनजान हैं, हम उनको बता दें कि Apple एचआईवी/एड्स के प्रति जागरूकता फैलाने और प्रचार करने के लिए अपने उत्पादों में से कुछ को लाल पेंट करने के लिए जाना जाता है | इन उत्पादों को लाल रंग प्रदान करके इसलिए लॉन्च किया गया है क्योंकि यह कंपनी के इस दानशील प्रयासों में थोड़ा और धन संचय करने में मदद कर सके, और इन उत्पादों की रूप रेखा से यह सोच प्रदर्शित भी की जा सके |

इसका कारण यह भी है कि लाल रंग वाले Apple उत्पादों की खरीद (जो इस समय एक विशेष संस्करण, iPhone 7 लाइनअप में है) दान में किए गए योगदान को दर्शा सके | यह दिग्गज कंपनी अपने लाल उत्पादों की बिक्री के माध्यम से अब तक $130 मिलियन अर्जित किए हैं, जिनमेंअतीत में Beats हेडफ़ोन या अन्य उत्पाद भी शामिल थे |

आने वाले महीनों में दान के लिए अधिक धन जुटाने के लिए Apple 40 देशों में इन उपकरणों को 779 डॉलर की शुरुआती कीमतों के साथ उपलब्ध करा सकती है | यह अप्रैल में ही इन डिवाइसों को लॉन्च करना चाहते थे, लेकिन, कई फैनबॉय ने कंपनी की चीनी वेबसाइट पर इस लाल ब्रांड पदोन्नति के बारे में चेतावनी जताई है और कहा की इसका कोई अस्तित्व नहीं है | हालांकि ब्रांडिंग को कंपनी की ताइवानी वेबसाइट पर बरकरार रखा गया है |

यह आश्चर्य की बात इसलिए भी है क्योंकि यह चमकीला लाल रंग का iPhone, सिल्वर रंग के Apple  Logo के साथ चीनी आबादी को बहुत आकर्षक लगने की अत्यधिक संभावनाएं हैं | खैर ! यह लॉन्च उस समय हुआ है, जब कंपनी इस क्षेत्र में आगे की बिक्री के लिए रणनीतियों की तलाश कर रही है, जो पिछले एक साल से गिरावट का सामना कर रही है | स्थानीय प्रतियोगियों जैसे Vivo, Huawei और Oppo ने बिक्री के मामले में इसको चौथे स्थान पर नीचे गिरा दिया है | लेकिन, वे चीन से योगदान लेने के लिए इस [लाल] ब्रांडिंग को क्यों नहीं लागू कर रहे, यह बात सोचने पर जरुर मजबूर करती है ?

इस बीच ऐसा लगता है कि एचआईवी / एड्स चीनी जनता के बीच चिंता का एक प्रमुख विषय है, लेकिन इसके रोकथाम के बारे में बात करना भी वहाँ मुश्किल है | एड्स के बारे में चिंताओं को दूर करने के लिए चीनी सरकार ने कई नीतियों को पेश किया है, जो देश के छात्रों और समलैंगिक पुरुषों के बीच बहस का मुद्दा है | हालांकि, छात्रों में वायरस के फैलाव को सीमित करने में प्रगति हुई है, लेकिन बाद के उत्तरार्ध में इसके उदय को रोकने में मुश्किल साबित हुई है |

Apple भी राष्ट्र में इस विषय की संवेदनशीलता के संबंध में विवाद से बचने की कोशिश कर रहा है | इसलिए यह [RED] ब्रांडिंग चीन में शुरू नहीं की गई |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन