खबर डिजिटल इंडिया मोबाइल एप्प्स

भारत के ‘डिजिटल सशक्तिकरण’ के क़दम में सहयोग देगा, WhatsApp: सह-संस्थापक

अपने राजस्व परिचालन में सुधारों को लेकर कमर कस रहे, WhatsApp के सह संस्थापक, Brian Acton ने आज उन तरीकों के बारे में बताया, जिससे उनका यह एप्लिकेशन भारत द्वारा देखे जा रहे डिजिटल वाणिज्य के सपने को साकार बनाने में मदद कर सकता है |

भारत के आईटी मंत्री, रवि शंकर प्रसाद के साथ एक बैठक में उन्होंने इस विषय पर अपना रुख साफ़ करते हुए यह जाहिर किया | साथ ही Brian ने वैश्विक बाजार में भारत के महत्व का उल्लेख किया और बताया की कैसे कंपनी नागरिकों को उनके दोस्तों, परिवार और समुदायों के साथ कनेक्ट करने संबंधी योजना बना रही है |

इस बारे में बात करते हुए, Brian Acton ने कहा,

“ भारत हमारे लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण देश है, और हमें उन 200 मिलियन लोग पर गर्व है, जो अपने दोस्तों, परिवार और समुदाय के साथ कनेक्ट रहने के लिए WhatsApp का उपयोग करते हैं, हम हर WhatsApp सुविधा का निर्माण सरल, विश्वसनीय, और सुरक्षित रूप में करतें हैं और इस तरीका डिजिटल इंडिया के दृष्टिकोण में भी सहयोग प्रदान करेगा ”

हम आपको बता दें कि वर्तमान में 200 मिलियन भारतीय, WhatsApp के साथ दैनिक आधार पर संलग्न हैं | इसलिए कंपनी अब ग्राहकों की जरूरतों के अनुसार सरल, विश्वसनीय और सुरक्षित WhatsApp सुविधाओं के निर्माण की दिशा में काम कर रही है | हाल ही में ही ने मंच फोटो, वीडियो और GIFs साझा करने हेतु अपनी ‘Status’ सुविधा का पुर्नोत्थान किया है | इसके साथ ही अब कंपनी उन सुविधाओं पर ध्यान देना चाहती है, जो डिजिटल इंडिया की दिशा में सहयोग प्रदान कतरी नज़र आयें |

सह-संस्थापक के साथ बातचीत की एक झलक पेश करते हुए आईटी मंत्री, रवि शंकर प्रसाद ने ट्विटर पर लिखा,

“ सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक प्रतिभाशाली व्यक्ति और WhatsApp के सह-संस्थापक, Brian Acton आज मुझसे मिले, इसके साथ ही मैंने डिजिटल सशक्तिकरण के क्षेत्र में Facebook और WhatsApp जैसे प्लेटफ़ॉर्मो के सहयोग को सराहा ”

यह बैठक Acton के एक दिवसीय भारत दौरे के दौरान आयोजित की गई थी | वह यहाँ WhatsApp के कारोबार प्रमुख, नीरज अरोड़ा के साथ आईआईटी-दिल्ली में छात्रों के लिए एक तकनीक केंद्रित भाषण देने के लिए उपस्थित हुए थे |

कंपनी अब अपने मंच के मुद्रीकरण के लिए उद्यमों के साथ सहयोग करने संबंधी कोशिशें करती नज़र आ रही है, लेकिन अभी भी यह तीसरे पक्ष के विज्ञापन के खिलाफ सख्त रुख अपनाये हुए है |

आने वाले हफ्तों में, WhatsApp एक ऐसा उपकरण ला सकता है, जिससे उपयोगकर्ता बैंकों और विमान सेवाओं जैसे व्यवसायों और संगठनों के साथ संपर्क स्थापित कर पायेगें |

इस बीच कंपनी अपने Hike, Snapchat और Viber जैसे प्रतिद्वंदियों के चलते भी काफ़ी जुझारू रुख अपनाये नज़र आ रही है, क्योंकि यह अन्य प्लेटफ़ॉर्म तुलनात्मक रूप से काफ़ी अच्छा राजस्व कमाते नज़र आ रहें हैं |

इस बीच आपको WhatsApp की नई ” Status अपडेट” कैसी लगी, यह भी नीचे कमेंट बॉक्स में हमें जरुर बताएं |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन