ई-कॉमर्स खबर

Microsoft, PayPal तथा अन्य से ‘1.5 बिलियन डॉलर’ का ताज़ा निवेश हासिल करने की कोशिशों में है Flipkart

Flipkart कुछ समय से ताज़ा निवेश हासिल करने संबंधी कई कोशिशें करता नज़र आ रहा है और अब उसकी इन्हीं कोशिशों ने एक बार फिर Flipkart को सुर्ख़ियों में ला दिया है | दरसल, नई रिपोर्टों के अनुसार, Flipkart अब Microsoft सहित कई अन्य कंपनियों से 1.5 बिलियन डॉलर तक का निवेश हासिल करने संबंधित बातचीत कर रहा है |

इस मामले के जानकार सूत्रों के अनुसार, Flipkart यह ताज़ा निवेश अर्जित करने के लिए Microsoft Corp., eBay Inc., PayPal Holdings Inc. और Tencent Holdings Ltd जैसी कंपनियों के साथ संपर्क स्थापित किए हुए है | इसके साथ ही कंपनी Google Capital से भी निवेश हासिल करने की योजना बना रही है |

यह ई-कॉमर्स दिग्गज़ 10-12 बिलियन डॉलर के अपने मूल्यांकन के साथ नए फंड जुटाने की कोशिश करती नज़र आ रही है | साथ ही ख़बर यह भी है कि अगर सब कुछ सही रहा तो निवेश का यह दौर आगामी 3 हफ़्तों में खत्म हो जाएगा |

हालाँकि अभी तक यह समझ से परे है कि Flipkart कैसे eBay से निवेश की उम्मीद कर रहा है, जबकि यह जग जाहिर है कि eBay पहले से ही कंपनी के मुख्य प्रतिद्वंदी Snapdeal में एक रणनीतिक निवेशक की भूमिका निभा रहा है | लेकिन यह उम्मीदें शायद इसलिए भी जताई जा रहीं हैं, क्योंकि Flipkart के वर्तमान सीईओ, कल्याण कृष्णमूर्ति इसके पहले eBay के साथ सात वर्षों तक वित्तीय भूमिकाओं में नज़र आते रहें हैं |

हालाँकि इसके पहले तक कंपनी 500 मिलियन डॉलर से 1 बिलियन डॉलर तक का निवेश हासिल करने की योजना बना रही थी | लेकिन सूत्रों की मानें तों ने सीईओ, कल्याण कृष्णमूर्ति के आने बाद निवेश की अपेक्षाओं को बढ़ाया गया है |

इसके पहले Flipkart के मूल्यांकन 10-12 बिलियन डॉलर के बीच किया गया था, जो की इसके पहले के 15 बिलियन डॉलर के मूल्यांकन से काफ़ी कम रहा | इसकी वजह यह भी रही कि कंपनी के ही पांच निवेशकों ने इसके मूल्यांकन को 60 प्रतिशत तक घटा दिया |

इन बातों का ख़ुलासा तब हो सका, जब एक हफ़्ते पहले ही Flipkart और Microsoft ने आपसी रणनीतिक क्लाउड साझेदारी की घोषणा करी, जिसके अंतर्गत Flipkart ने विशिष्ट सार्वजनिक क्लाउड मंच के रूप में Microsoft Azure को स्वीकारा |

हालाँकि इसके 18 महीनें पहले कंपनी ने अपने पूर्व निवेशकों से 700 मिलियन डॉलर का निवेश हासिल किया था, निवेश के इस दौर का Tiger Global Management द्वारा किया गया था |

इन बीच Flipkart, चीनी दिग्गज़ कंपनी, Alibaba और दुनिया की सबसे बड़ी रिटेल स्टोर कंपनी, Walmart से निवेश अर्जित करने संबंधी योजना बना रही थी, लेकिन कुछ कारणों से यह सौदा संभव नहीं हो सका |

माना यह जा रहा है कि Flipkart के गिरते मूल्यांकन की वजह से यह सौदा नहीं हो सका |

हालाँकि इन सब के बीच, हाल ही में कंपनी कुछ सकारात्मक परिवर्तनों की भी गवाह बनी | अभी कुछ समय पहले ही कंपनी ने 260 करोड़ रुपये के लिए मीडिया फर्म Bennett, Coleman, and Co. Ltd (BCCL) को एक छोटी सी हिस्सेदारी बेची |

खैर ! इस बीच हमें Flipkart के साथ ही इस मामले की और जानकारी हासिल करने हेतु संपर्क किया है, और ज्यादा जानकारी मिलतें ही आपको जरुर मुहैया करवाई जाएगी |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन