खबर

न्यूज़ीलैंड उच्च न्यायालय का निर्णय, ‘किम डॉटकॉम’ वापस जाएगी US

न्यूज़ीलैंड उच्च न्यायालय ने निर्णय लिया है कि Mega व Megaupload के संस्थापक, किम डॉटकॉम को US वापस भेजा जायेगा। हाई कोर्ट द्वारा लिया गया ये निर्णय, उस पुराने निर्णय को बनाये रखता है, जिसके अनुसार डॉटकॉम को उनके सहायकों के साथ वापस US जाकर कानूनी लड़ाई लड़ने के लिये कहा गया था।

Mega व Megaupload, महत्वपूर्ण फ़ाइल स्टोरेज कंपनियां थीं। इन वेबसाइटों को 2012 में बंद कर दिया गया था जब इनपर कॉपीराइट के उल्लंघन और रैकेट चलाने के आरोप लगे थे। सात अधिकारियों पर आरोप लगे थे, जिनमें से चार को हिरासत में ही ले लिया गया था। हिरासत में लिये गये लोग, जिनमें डॉटकॉम भी थे, तभी से एक कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं, जिससे कि उन्हें वापस US न भेजा जाये।

फ़ाइल हो सेटिंग के रूप में खुद को दर्शाने वाली इस वेबसाइट को रैकेट चलाने और संगीत से लेकर फ़िल्मों, हर चीज़ की पाइरेसी के लिये उपयोग किया जा रहा था। कमाल की बात है कि इस कंपनी के कार्यकारी सी.ई.ओ., ऐलिशिया कीज़ के पती स्विज़ बीट्स थे। जी हां, उन्होंने अपने मंच को सही दिखाने हेतु बीट्स को सी.ई.ओ. बनने के लिये मना लिया। ये काम तो नहीं किया, परंतु सभी के लिये मज़ाक का एक स्त्रोत ज़रूर बन गया।

देश में गिरफ़्तार हुए लोगों में डॉटकॉम के अलावा, फ़िन बटाटो, मथाइयस ओर्टमैन और ब्रायन वैन डर कोक थे। ये अब वापस US जाकर कानूनी कार्यवाई झेलने के एक कदम और पास आ गये हैं। हां ये उच्चतम न्यायालय में अभी भी अपील कर सकते हैं और वे ऐसा ज़रूर करेंगे भी। परंतु अपील, केवल जो होने वाला है उसे और आगे बढ़ायेगी।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन