इंटरनेट खबर

Zenimax को टेक्सस की जूरी ने Occulus VR के मुकदमे में दिये, आधे बिलियन डॉलर

ZeniMax की एक बड़ी जीत के तहत, डैलस, टेक्सस की दूरी ने कंपनी को आधे बिलियन डालॉर की रकम उपलब्ध करायी। ये रक़म उन्हें Occulus उपलब्ध करायेगी, क्योंकि वे सहसंपामर लकी के साथ हस्ताक्षरित किया गया गोपनीयता के अग्रीमेंट को पूरा नहीं कर सके।

ये रक़म, ZeniMax द्वारा मांगे गये $4 बिलियन से तो बहुत कम हैं। परंतु Facebook के सी.ई.ओ. मार्क ज़करबर्ग जितने की उम्मीद थी, उससे अधिक है, क्योंकि जब॒ वे अदालत में पेश भी हुए थे, तब भी उन्होंने केस को बेबुनियाद बता दिया था। जहां अदालत ने पाया कि Occulus ने गोपनीयता तोड़ी, परंतु उन्होंने किसी व्यापार की गुप्त जानकारी का दुरुपयोग नहीं करा, जिसके कारण, वे अधिक फ़ाइन से बच गये।

ये प्रचलित मुकदमा पिछले महीने सामने आया था, जब Zenimax ने Occulus (जिन्हें Facebook ने अधिग्रहित किया है) पर अपने व्यापार की गोपनीय जानकारी चुका कर अपने प्रोडक्ट बनाने का आरोप लगाया था। Zenimax ने Occulus पर 2014 में मुकदमा किया था और ये अंतिम दौर में पिछले महीने आया है।

केस में id Software के सहसंस्थापक जॉन कैमक, Facebook के सी.ई.ओ. मार्क ज़करबर्ग और Occulus के सहसंस्थापक इर्बी और पामर लकी शामिल हैं।

Zenimax के मुताबिक, प्रचलित “Rift”, जो कि पामर लकी व कुछ अन्य लोगों ने (जो सभी Zenimax से Occulus में स्थानांतरित हुई हैं) बनाया था, Facebook के वर्चुअल वास्तविकता का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। कंपनी का दावा है कि इनके लोगों ने Zenimax में अपने वक्त के दौरान जो जानकारी हासिल करी, उसी के आधार पर उन्होंने Rift को विकसित किया है। और तो और, Occulus के सहसंस्थापक पामर लकी का विशेष रूप से वर्णन हुआ और ये कहा गया कि उन्होंने उनकी कंपनी और Zenimax के बीच के गोपनीयता के नियमों को तेज़ी था।

अभी, लकी को $50 मिलियन का जुर्माना भरना पड़ेगा। पूर्व Occulus सी.ई.ओ., ब्रेंडन इर्बी को भी $150 मिलियन देने होंगे। अब देखते हैं कि Facebook के सी.ई.ओ., मार्क ज़करबर्ग अपनी कंपनी के रेवेन्यू कॉल में इसका ज़िक्र करते हैं या नहीं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन