इंटरनेट खबर गूगल

Google के सह-संस्थापक, Sergey Brin ने भी हवाई अड्डे पर किया राष्ट्रपति ट्रम्प की “आप्रवास नीति” का विरोध

Alphabet के अध्यक्ष और Google के सह-संस्थापक, Sergey Brin भी बीती रात राष्ट्रपति ट्रम्प की “आप्रवास नीति” (Immigration Order) के विरोध में देश भर के हवाई अड्डों पर इकट्ठे हुए प्रदर्शनकारियों के रूप में सैन फ्रांसिस्को अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर प्रदर्शनकारियों का साथ देते नज़र आए और उन्होंने खुल कर ट्रम्प की इस नीति का विरोध किया |

हम आपको बता दें कि Brin का परिवार 1979 में यहूदी उत्पीड़न से बचने के लिए सोवियत संघ छोड़ संयुक्त राज्य अमेरिका चला आया था | इसके साथ ही, जैसा की हम सब जानते हैं, Google के सीईओ, सुंदर पिचाई भी एक आप्रवासी हैं |

इसके साथ ही अनेकों प्रौद्योगिकी कंपनियों ने इस नीति का खुला विरोध किया है | जिनमें से सबसे मजबूत विरोध Netflix के सीईओ, Reed Hastings ने दर्ज़ कराया, जब उन्होंने इस कदम को “गैर-अमेरिकी” करार दिया |

इस बीच अन्य कई मशहूर और आम सभी जनमानस ने इस नीति के विरोध में आवाज़ उठाई है | आपका आख़िर ट्रम्प की इस नीति को लेकर क्या मत है ? यह हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन