खबर स्टार्टअप्स

SpaceX लॉन्च करने जा रहा है अपना आख़िरी ‘डिस्पोजेबल रॉकेट’

SpaceX आगामी दिनों में आपको फ़िर से  रोमांचित करने को तैयार है | Elon Musk ने ख़ुलासा करते हुए बताया कि 30 जनवरी को होने वाली, SpaceX की अगली उड़ान, जिसमें Falcon 9 द्वारा EchoStar उपग्रह पहुंचाने का कार्य किया जाएगा, उसमें शायद कंपनी आख़िरी बार अपने उपभोजित रॉकेट का उपयोग करे |

यह रॉकेट अपने पहले चरण के तहत उतरने के प्रयास करने में बहुत ज्यादा ईंधन की खपत करता है, इसके साथ ही यह अत्यधिक वजनी भी है (लगभग 5.4 टन ) | जिसके चलते अब भविष्य में बड़े-पेलोड लॉन्च करने के लिए, उच्च प्रदर्शन Falcon 9 (Block 5) या Falcon Heavy का उपयोग किया जाएगा  |

इसके साथ ही Musk ने यह भी कहा कि नए Falcon रॉकेट की शुरुआत 2017 के अंत तक की जा सकती है |

हालाँकि इस ख़बर के चलते, पूरी तरह से किसी अन्य उपभोजित रॉकेट के उपयोग की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता है | इस बीच यह जरुर माना जा सकता है कि भविष्य में SpaceX के इन प्रयासों के मद्देनज़र पुन: प्रयोज्य रॉकेट नियम, मात्र एक अपवाद न बनकर, अपितु इसके निजी अंतरिक्ष यान के क्षेत्र में एक मानक बनकर उभर सकतें हैं |

इन सबके बीच Ars Technica ने इस बात पर गौर किया है कि SpaceX पूर्ण रूप से फिर से इस्तेमाल किए जा सकने वाले रॉकेटों पर फ़िलहाल अभी पूरी तरह से निर्भर नहीं होगा, जब तक कि Falcon 9 Block 5 का आगमन न हो |

इस बीच Jeff Bezos के Blue Origin ने भी ऐसी रॉकेट का इस्तेमाल शुरू करते हुए, उसका कई बार उड़ान भरकर परीक्षण संम्पन्न किया है |

अब देखना यह है कि इन नई और रोमांचक तकनीकों के जुड़ने से, अंतरिक्ष यान के क्षेत्र में कितने नए अध्याय और जुड़ सकेंगें |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन