CES 2017 खबर भविष्यकाल

Honda ने किया अपनी Self-Balancing मोटरसाइकिल का अनावरण : CES 2017

Las Vegas में चल रहे Consumer Electronics Show (CES) में Honda ने अपनी ‘Riding Assist‘ तकनीक का अनावरण किया | Honda की Riding Assist नामक यह तकनीक मुख्यतः मोटरसाइकिल को धीमी स्पीड पर बिना gyroscopes की मदद के संतुलन बनाने जैसी सहूलियत प्रदान करती है |

यह तकनीक ठीक वैसे ही काम करती है, जैसे धीमी गति पर साइकिल पर लोग संतुलन स्थापित करते हैं | इसके जरिये मोटरसाइकिल के सामने के कांटे की बाहर Raking कर, आगे के पहियों को संतुलित किया जाता है |

अधिकांश सेल्फ़-बैलेंसिंग बाइकों में gyroscopes का सहारा लिया जाता है, लेकिन साथ ही इसके चलते बाइक के वजन में भी खासा इजाफ़ा हो जाता है | इसीलिए Honda Riding Assist  मोटरसाइकिल, इन तकनीकों के बजाए, कंपनी की Robotics तकनीक से लैस की गई है |

Honda द्वारा प्रदर्शित की गई इस बाइक में स्वायत्त प्रौद्योगिकी की झलक भी देखने को मिलती है |

हालाँकि यह पहली बार नहीं हो रहा है जब  सेल्फ़-बैलेंसिंग प्रौद्योगिकी मोटरसाइकिल में अवधारणा के रूप में पेश की गई हो | इसके पहले पिछले अक्टूबर में BMW Motorrad ने अपनी सेल्फ़-बैलेंसिंग तकनीक से लैस Vision Next 100 Concept बाइक का अनावरण किया था |

इन सब के बीच BMW Motorrad की अवधारणा से कहीं आधुनिक तकनीकों से लैस Honda की सेल्फ़-बैलेंसिंग Riding Assist तकनीक नज़र आती है |

इसके साथ ही Honda द्वारा CES में इस तकनीकी बाइक का प्रदर्शन, किसी उत्पादन बाइक की तर्ज़ पर ही नज़र आता है, लेकिन कंपनी की Riding Assist तकनीक को वर्तमान मॉडलों में उपयोग करने से सम्बंधित कोई मंशा फ़िलहाल जाहिर नहीं होती है |

खैर ! भविष्य में जहाँ ऐसी तकनीक नए सवारों को और भी रिझाने का काम करेगी, वहीं Honda Goldwing जैसी बाइक को धीमी स्पीड पर भी चलाने जैसी सहूलियतें प्राप्त हो सकेंगी |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन