CES 2017 खबर गैजेट्स भविष्यकाल

Google Glass के बाद, Lenovo ने अपने स्मार्ट ग्लास प्रोडक्ट “New Glass C200” को किया प्रदर्शित

दुनिया का सबसे बड़ा मेला, CES 2017 ज़ोर पकड़ रहा है और Lenovo इस समय सबसे अधिक आगे है, अपने नये नवेले प्रोडक्ट दिखाने में। परंतु ये चीनी कंपनी Google Glass जैसे ही अपने विकसित हो रहे प्रोडक्ट की झलक दिखा कर अपने प्रदर्शन के सोने पर सुहागा कर दिया। उम्मीद है कि मास प्रोडशन 2017 में शुरू हो जायेगा।

‘New Glass C200’ नाम के इस स्मार्ट ग्लास प्रोडक्ट के साथ, कंपनी ऐसे क्षेत्र में प्रवेश कर रही है, जहां सभी किसी और तकनीक कंपनी ने अधिक खोज नहीं करी है। ये ऑगमेंटेड वास्तविकता और कृत्रिम बुद्धी तकनीकों को प्रयोग कर के ये डिवाइस बना रहे हैं, जो कि Linux पर चलता है। उसका मुख्य उपयोग व्यापारों और इंटरप्राइज़ों के लिये बताया गया है। इनके अधिकारिक ब्लॉग पोस्ट में भी उक्त लिखा गया है:

स्मार्ट ग्लास के ज़रिये, हमारे कमर्शियल उपभोक्ता बहतर तरीके से अपना कार्य कर सकेंगे, आसानी से जानकारी ढूंढ़ने में, दूर के सब कर्मियों को आपस में जोड़ने में और अन्य चीज़ें में भी सहायता करेंगे।

Google Glass को एक ऐसे प्रोडक्ट के रूप में बनाया गया था, जिसका सारा सिस्टम ग्लास के मेनफ़्रेम में ही डाला गया था, परंतु Lenovo जो कर रही है, वो तो बिलकुल अलग ही है। सब कुछ ग्लास में डालने की जगह, ये सिस्टम को दो हिस्सों में बांट रहे हैं – ग्लास युनिट और जेब युनिट – जिससे, इनके अनुसार, उपभोक्ताओं का अनुभव और भी बहतर किया जा सकता है।

ग्लास युनिट की बात करें तो ये केवल 60 ग्राम से भी कम का है और उपभोक्ताओं के आंखों के आगे रखने के बाद, वे वास्तविकता व अन्य चीज़ों को एक साथ देख सकते हैं। ग्लास युनिट में एक कैमरा होगा और दायीं ओर सेंसर जिससे ग्लास चीज़ों को देख कर ऐनालाइज़ कर सकता है। जेब वाली युनिट, मोबाइल पर ‘New Glass’ ऐप डाउनलोड करने के बाद कार्य करेगा – जो कि इस युनिट का हिस्सा होगा।

इसके कॉम्बिनेशन से ग्लास की गुणवत्ता बहतर होगी, इसका प्रोसेसिंग ताकत और LTE कनेक्शन की वजह से। फिर ये NBD MARTIN सॉफ़्वेयर की कृत्रिम बुद्धी पहचान तकनीकों का प्रयोग कर के चीज़ों की पहचान करता है और उन्हें नाम देता है। इसमें उपभोक्ताओं के आस पास की चीज़ों और उन लोगों की जानकारी, जिसने वे बात करते हैं, जोड़ कर, कमर्शियल उपभोक्ताओं को बहतर टूल उपलब्ध कराये जाते हैं।

इसी बारे में बात करते हुए Lenovo ने कहा:

New Glass C200 की सहायता से उपभोक्ता अपने सामने की चीज़ देख सकते हैं, परख सकते हैं और उसके अनुसार, सारी जानकारी देते हैं।

इसी के अलावा, कंपनी अपने Lenovo NBD Titan को सॉफ़्वेयर को प्रदर्शित करने वाले हैं जिसका सहायता से उपभोक्ता कृत्रिम बुद्धी कंटेंट बना और एडिट कर सकते हैं। इससे उपभोक्ता विज़ुअल डिवाइस एडिटिंग उपाय भी उपलब्ध हैं। इसमें R Content Builder और Space Visitor को भी इसमें जोड़ रहे हैं, जिससे कि वे कृत्रिम बुद्धी सीनों को एडिट कर सकते हैं।

ये प्रोटोटाइप उनके व्यापारों व एंटरप्राइज़ों के साथ ही उपयोग किये जा सकते हैं। ये इसे पहले ही अपने सभी डिवाइसों से कंपैटिबल बना कर भेज रहे हैं परंतु इसे पहने जा सकने वाले डिवाइसों को भी अपने पोर्टफ़ोलियो में जोड़ रहे हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन