खबर डिजिटल इंडिया मोबाइल एप्प्स

प्रधानमंत्री मोदी ने लॉन्च किया ‘BHIM’ एप्लिकेशन, “बिना इंटरनेट” मोबाइल से करें लेनदेन

देश को भ्रष्टाचार से लड़ने की प्रक्रिया में एक वित्तीय भूकंप देने के बाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैशलेस भारत की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है | आज आयोजित किए गए डिजी धन कार्यक्रम में मोदी ने, बिना नकद भुगतान की सुविधा के लिए, एक नए मोबाइल भुगतान इंटरफेस, BHIM को लॉन्च किया |

इसका पूरा नाम है, Bharat Interface for Money, और इस नए एप्लिकेशन के तहत, लेन-देन के रूप में डिजिटल भारत के बदलते चेहरे का एक संकेत प्रदर्शित किया गया है | लोग BHIM का उपयोग, दूसरों को पैसे भेजने या उनसे लेने के लिए कर सकतें हैं | हालांकि, यह एप्लिकेशन कई मायनों में अनूठा है |

आज जहाँ हमें Paytm जैसी सुविधाओं संबंधी वॉलेट का उपयोग करने के लिए, सवर्प्रथम अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड की आवश्यकता होती है, वहीं BHIM एप्लिकेशन ऑनलाइन बैंकिंग की तर्ज़ पर काम करते हुए, सीधे आपके बैंक खाते से जुड़ा होगा | इस कदम से कई मोर्चों पर राहत जरुर मिल सकेगी |

इस एप्लिकेशन का मुख्य आकर्षण यह है कि इसके संचालन के लिए इंटरनेट कनेक्टिविटी की कोई आवश्यकता नहीं पड़ती है | जी हाँ ! एक बार Google Play Store से डाउनलोड करने के बाद, आप इसका संचालन USSD सेवा (Unstructured Supplementary Service Data) का उपयोग करके, कर सकतें हैं, जिसके लिए आपको मात्र *99# डायल करना होगा |

प्रधानमंत्री मोदी ने इसका नाम, डॉ भीमराव अम्बेडकर को समर्पित करते हुए कहा,

“ 1,000-1,200 रुपये तक के स्मार्टफोनों या फीचर फ़ोनों में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है, जिसके लिए आपको इंटरनेट कनेक्टिविटी की कोई आवश्यकता नहीं होगी, बस एक अंगूठे की जरूरत होगी

एक समय था जब अनपढ़ लोगों को “अंगूठा छाप” कह कर चिढ़ाया जाता था, लेकिन अब यही अंगूठा आपका बैंक और आपकी पहचान को प्रदर्शित करेगा ”

इसको इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है, एक बाद BHIM एप्लिकेशन को डाउनलोड करने के बाद, आपको एप्लिकेशन में अपनी बैंक संबंधी जानकारियाँ डालनी होंगी और एक UPI PIN सेट करना होगा | इसके बाद आपका मोबाइल नंबर ही आपके “पेमेंट एड्रेस” के तौर पर काम करेगा और इसके बाद आप लेनदेन की प्रक्रिया को अंजाम दे सकेंगें |

एप्लिकेशन आपको फोन नंबर के जरिये धन प्राप्त करने और भेजने संबंधी सहूलियतें देगा | इसके साथ ही शेष राशि की जांच और अपने फोन नंबर को साझा किए बिना, भुगतान के लिए मात्र QR कोड स्कैन करने संबंधी सुविधाएं भी इसमें शामिल हैं |

बिना UPI के IFSC के जरिये भी कार्य किया जा सकता है, जैसा की ऑनलाइन बैंकिंग में इस्तेमाल किया जाता है | फ़िलहाल 30 से अधिक बैंकों को इस एप्लिकेशन से संबद्ध किया गया है |

capture

संबद्ध होने वाले बैंकों की सूची कुछ इस प्रकार है,

  • इलाहाबाद बैंक
  • आंध्रा बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • केनरा बैंक
  • कैथोलिक सीरियन बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • डीसीबी बैंक
  • देना बैंक
  • फेडरल बैंक
  • एचडीएफसी बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • आईडीएफसी बैंक
  • इंडियन बैंक
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • इंडसइंड बैंक
  • कर्नाटक बैंक
  • करूर वैश्य बैंक
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • ओरिएंटल बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • आरबीएल

हालाँकि इसमें 10,000 रूपये प्रति हस्तांतरण और 20,000 रूपये प्रति दिन के हस्तांतरण की सीमा तय की गई है | इसके साथ ही BHIM अभी सिर्फ़ एंड्राइड उपयोगकर्ताओं के लिए ही मौजूद है और जल्द ही यह iOS के लिए भी लॉन्च की जा सकती है |

इस बीच, आप मोदी जी के इस कदम पर, अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स पर हमारे साथ साझा कर सकतें हैं |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन