खबर मेक इन इंडिया स्मार्टफोन्स

‘नोएडा’ में Oppo खोलेगा “औद्योगिक पार्क”, ‘216 मिलियन डॉलर’ होगी लागत

आज जब 275 मिलियन उपकरणों के स्थापित आधार के साथ भारतीय स्मार्टफोन बाज़ार एक स्थिर गति से बढ़ रहा है | ऐसे में कई चीनी स्मार्टफोन निर्माताओं द्वारा लगातार बाज़ार में अधिकतम हिस्सेदारी हासिल करने संबंधी कोशिशें जारी हैं |

हालाँकि Xiaomi और ZTE जैसे कई कई चीनी ब्रांडों ने, अपने बजट लाइनअप्स के साथ बाज़ार में अपना प्रभुत्व स्थापित कर रखा है | अब इसी प्रवृति को अपनाते हुए, Oppo भी ‘ग्रेटर नोएडा’ अपना “औद्योगिक पार्क” खोलने संबंधी योजना बना रही है |

इस कथित औद्योगिक पार्क में Oppo की एक विनिर्माण इकाई भी शामिल होगी, जो 1,000 एकड़ की जमीन पर फ़ैला होगा | कंपनी इसमें कुल 216 मिलियन डॉलर का निवेश कर सकती है | साथ ही यह पार्क कंपनी द्वारा चीन के Dongguan में स्थापित औद्योगिक पार्क की तर्ज़ पर ही निर्मित होगा |

Oppo के उपाध्यक्ष, Li के अनुसार पार्क के लिए समझौते पर हस्ताक्षर ‘संवाददाता सम्मेलन ‘ जनवरी के अंत तक किया जा सकता है |

इस औद्योगिक पार्क के अलावा कंपनी द्वारा भारत में एक Surface Mount Technology (SMT) केंद्र भी खोला जा सकता है, जो संभावित तौर पर फ़रवरी के अंत तक हो सकेगा | यह केंद्र भारत में इस चीनी निर्माता की स्मार्टफोन बनाने की क्षमता को बढ़ावा देगा | कंपनी के अनुसार, इस वक़्त उसकी बाज़ार में 8.8% की हिस्सेदारी है, जो की पार्क खुलने के बाद और भी अधिक बढ़ सकती है |

भारतीय स्मार्टफोन बाजार के बारे में बात करते हुए, Li ने टिप्पणी की,

“ हम भारतीय बाजार को लेकर काफ़ी आश्वस्त हैं, हम अल्पकालिक लाभ  के बारे में चिंता न करते हुए, अपने सेल्फी कैमरों को स्थापित करने जैसी प्रवृति की तर्ज़ पर, दीर्घकालीन मुनाफ़े को अपना रहें हैं, और अपना पूरा ध्यान उपभोक्ताओं की समस्याओं को सुलझाने पर केंद्रित करना चाहते हैं ”

अपने प्रतिद्वंद्वियों की तरह ही, यह कंपनी भी अब युवा और फैशनेबल लोगों पर ध्यान केंद्रित कर रहीं है | अभी फ़िलहाल, कंपनी केवल ऑफ़लाइन बाजार पर सीमित रह, प्रतियोगियों को हराने के लिय ‘कीमत का खेल’ सीखना चाहती है |

इस औद्योगिक पार्क की 3 सालों में पूरा होने की उम्मीद है | इसकी क्षमता 50 मिलियन यूनिट की होगी, जो भविष्य में 100 मिलियन यूनिट तक बढ़ाई जा सकेगी |

आगामी 2017 के उत्पादों पर बोलते हुए, Li ने कहा,

“ अन्य कंपनियों की तरह हमारा लक्ष्य अत्यधिक मात्रा में उत्पादों को बेचने का नहीं है, बल्कि हम मजबूत उत्पादों को बाज़ार में लाना चाहते हैं, और जैसा की लोगों ने हमारे सेल्फी कैमरों की प्रवृति को अपनाया था, हम वैसा ही कुछ फ़िर से लाने की तैयारियाँ कर रहें हैं, हमारी स्थिति बाज़ार में सही और सटीक है, और इसका सारा श्रेय हमारे बाजार अनुसंधान को जाता है ”

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन