एप्पल खबर

Nokia द्वारा पेटेंट का दावा करने के बाद, Withings के प्रोडक्ट Apple से हुए ग़ायब

Apple और Nokia फिर शुरू हो गये हैं। Nokia ने भले ही कुछ समय के लिये फ़ोन बनाना रोक दिया हो, परंतु वे अभी भी Apple के साथ अपने पुराने झगड़े को नहीं भूल पा रहे हैं। कंपनी ने पुराने ज़ख़्मों को कुरेदते हुए Apple के साथ अपने सारे पुराने पेटेंट मुकदमों को वापस खोल लिया है।

पिछले सप्ताह Nokia ने Apple पर पेटेंट का मुकदमा ठोक दिया, ये कहते हुए की कंपनी ने अपने प्रोडक्टों को लाइसेंस करने से मना कर दिया। ये मुकदमा भी 2011 के इनके मुकदमाें जैसा है, जब Nokia और Apple की इस लड़ाई के समझौते की कीमत $720 मिलियन थी। बहरहाल, Apple ने कई पेटेंट के मालिकों पर मुकदमा ठोकते हुए ये कहा है कि वे सभी कूपरटीनो की इस कंपनी से पैसे ऐंठने के उद्देश्य के साथ फ़िनलैंड की इस कंपनी से मिले हुए थे।

2011 में दोनों कंपनियां ऐसी ही एक जंग कर रहे थे, जिसका अंत हुआ था इस बात के साथ कि Apple को Nokia के प्रोडक्टों के पेटेंटों को लाइसेंस करना पड़ा। इनके मध्य पिछले सप्ताह तक चीज़ें शांत कहां, जब पूर्व स्मार्टफ़ोन बनाने वाली कंपनी ने, पेटेंटों के पुनः लाइसेंस न लेने का हवाला देते हुए Apple पर 40 से भी अधिक पेटेंटों के लिये 11 देशों में मुकदमा ठोक दिया।

वहीं दूसरी ओर Apple का रहना है कि फ़िनलैंड की ये कंपनी न्यायोचित शर्तों पर लाइसेंस नहीं दे रही है।

खैर, इतनी आसानी से न दबने वाली Apple ने अपने सभी डिवाइसों से Withings के सभी प्रोडक्टों को हटा दिया है। खैर, अगर आपको न पता हो तो बता दें कि Nokia ने वर्ष की शुरवात में ही वाई-फ़ाई स्केल, व अन्य तकनीक से लैस डिजिटल स्वास्थ्य संबंधित डिवाइस बनाने वाली कंपनी Withings को खरीद लिया था।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन