इंटरनेट खबर मोबाइल एप्प्स स्टार्टअप्स

“मैपिंग तकनीक” में सुधारों के लिए Uber भारत में करेगा व्यापक निवेश

29 भारतीय शहरों में उपस्थिति के साथ ही, भारत Uber के लिए एक बड़ा बाज़ार साबित हुआ है | यह अमेरिका के बाद कंपनी के लिए दूसरे स्थान का दर्ज़ा प्राप्त किए हुए है | साथ ही Ola जैसी स्थानीय कंपनियाँ हमेशा से ही इसके लिए कड़ी प्रतिद्वंदी साबित हुईं हैं |

Uber के संस्थापक, Travis Kalanick पहले ही यह साफ़ कर चुकें हैं कि वह अपने भारतीय कारोबार में क़रीब 1 बिलियन डॉलर का ताज़ा निवेश कर सकतें हैं |

हाल ही की रिपोर्टों के अनुसार, इस धन का उपयोग भारत में और अधिक सड़कों का मानचित्रण करने की दिशा में किया जाएगा  | यह कदम यात्रियों का समय बचाने के साथ ही, तुरंत टैक्सी के आगमन को भी बढ़ावा देगा | कंपनी वर्तमान में कंपनी, विशेष भूगोल नक्शे का उपयोग करने के लिए,  तीसरे पक्ष के डेटा प्रदाताओं के साथ बातचीत में लगी हुई है | साथ ही वह यातायात संबंधी अपडेट भी कंपनी को प्रदान कर रहें हैं,, ताकि एक कुशल मार्ग नेटवर्क स्थापित किया जा सके |

उत्पाद निदेशक, माणिक गुप्ता ने इस बारे में कहा,

“ संभावित आगमन समय (ETA) हमारे लिए सर्वोच्च प्राथमिकता का विषय है, और ETA अशुद्धि के सबसे बड़े घटकों में से एक ट्रैफिक है, क्योंकि अगर आप ट्रैफिक से अच्छे से वाकिफ नहीं हैं, तो आप कुशल तौर पर ETA जैसी सुविधा प्रदान नहीं कर सकतें हैं, इसके अलावा Pick-Up समस्या भी हमारे सामने है, क्योंकि कई शहरों में GPS सिस्टम सुचारू रूप से कार्य नहीं कर पाता है, तो ऐसे में हम ड्राईवरों को ग्राहकों की सटीक उपस्थिति संबंधी जानकारी प्रदान नहीं कर पाते हैं ”

“ हमारे मैप भी सटीक नहीं हैं, और इसका कारण यह है कि मैप वास्तविक दुनिया को दर्शाते हैं, और वास्तविक दुनिया स्थिर नहीं है, इससे पहले भी कई कंपनियों ने इस दिशा में सुधारों पर अत्यधिक निवेश किया है और अब Uber की बारी है ”

वर्तमान में Uber अपने APIs का उपयोग कर, Google Maps का इस्तेमाल करती है | लेकिन अब कंपनी इनमें मौजूद सुधारों की दरकार के चलते, इस कदम को तेज़ी से आगे ले जा सकती है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन