खबर स्टार्टअप्स

Airtel ने जताया Jio की “आगामी मुफ्त सेवाओं” पर ‘ऐतराज’, TRAI के फ़ैसले को दी ‘चुनौती’

Bharti Airtel ने मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी, Reliance Jio को निर्धारित 90 दिन के बाद भी, मुफ्त पेशकश को जारी रखने की अनुमति देने के TRAI के निर्णय के खिलाफ, दूरसंचार विवाद न्यायाधिकरण (TDSAT) में याचिका दायर की है | कंपनी ने ऐसा आरोप लगाया है कि नियामकों के उल्लंघन के बावजूद TRAI ‘मूक दर्शक’ की भूमिका निभा रहा है |

TDSAT के समक्ष Airtel ने 25 पेजों की याचिका दायर की है जिसमें TRAI को यह सुनिश्चित करने का निर्देश देने हेतु अनुरोध किया गया है कि Jio, 31 दिसंबर के बाद मुफ्त वॉयस और डाटा योजना उपलब्ध न करा सके |

Airtel द्वारा यह आरोप लगाया गया है कि

“ TRAI के शुल्क आदेश का, मार्च 2016 से लगातार उल्लंघन हो रहा है और जिस कारण उसे काफ़ी नुकसान हो रहा है, इसके साथ ही उसके नेटवर्क पर असर पड़ रहा है, क्योंकि Jio के मुफ्त कॉल की सुविधा के कारण कॉल की संख्या काफी बढ़ गई है ”

इस याचिका की सुनवाई शुक्रवार को तय की गयी थी | इसके साथ ही Jio के वकील भी मौके पर मौजूद थे | लेकिन TRAI ने कहा कि उसे निर्णय के लिए 10 दिन का समय और चाहिए |

TDSAT ने TRAI को अगली सुनवाई के दिन, इस बारे में अपना निर्णय स्पष्ट करने के निर्देश दियें हैं | इसके साथ ही मामले की अगली सुनवाई 6 जनवरी 2017 को होगी |

इस बीच, अब देखना यह है कि इस विवाद पर Jio और उसके उपयोगकर्ताओं की प्रतिक्रिया क्या रहती है ? आख़िरकार आप Airtel के इन आरोपों से किस हद तक सहमत हैं ? हमें अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन