एप्पल खबर गेमिंग गैजेट्स

लंबे इंतजार के बाद, आख़िरकार ‘Apple Watch’ पर हुआ ‘Pokémon Go’ का आगमन

हाल ही में Pokemon Go गेम के Apple Watch में आगमन संबंधी कई अफ़वाहें आपको देखने को मिली होंगी | लेकिन जनाब ! अब आपको ज्यादा उहापोहों में उलझने की जरूरत नहीं है | अंततः ‘The Tech Portal हिंदी’ की ख़बर पर अधिकारिक मोहर लग ही गई | आख़िरकार ! आज Niantic Labs ने अपने अधिकारिक ब्लॉग के जरिये यह ऐलान किया है कि

 “ Pokemon GO अब आपकी Apple Watch पर भी उपलब्ध है ”

Apple Watch में आपको गेम की hatch eggs संबंधी जानकारियाँ, अगले स्तर के लिए XP की जरूरत संबंधी जानकारियाँ आदि प्राप्त हो सकेंगी | साथ ही यह आपको आसपास मौजूद Pokemon के बारे में भी बताएगा, लेकिन अगर आप उसको पकड़ना चाहते हैं, तो जनाब ! फ़ोन निकालने की ज़हमत तो आपको उठानी ही पड़ेगी 😉

शारीरिक गतिविधियों के मेल से निश्चित रूप से खेल की डाउनलोड संख्या में इजाफा हुआ है, जो नवंबर में ही 600 मिलियन तक पहुँच चुकी है | इसके साथ ही अब इसमें द्वितीय पीढ़ी के Pokemons को भी जोड़ा गया है और इसी के साथ ही यह गेम अब भारत में भी अधिकारिक तौर पर मुहैया करवा दिया गया है |

इन आंकड़ों के देखें तो आज की तारीख तक इस गेम के खिलाड़ियों में कुछ 8.7 बिलियन किलोमीटर चल कर क़रीब 88 बिलियन Pokemons को पकड़ा है | इन आंकड़ों से आप लोगों के बीच, इस गेम की दीवानगी का अंदाज़ा लगा सकतें हैं |

Niantic के अनुसार,

“Pokémon Go के खिलाड़ी Apple Watch के जरिये, PokeStops से वस्तुओं को इकट्ठा करने, अपने अर्जित पदकों को देखने और एग हैच से जुडी सुविधाओं का आनंद ले सकेंगे, इसके साथ ही एप्लिकेशन आपके द्वारा चली गई दूरी और जलाई गयी कैलोरी को भी ट्रैक करने में सक्षम होगा ”

तो अब तैयार हो जाएँ जनाब ! क्योंकि जिन Pokemons को कुछ सालों पहले तक आप सिर्फ़ अपने टेलीविज़न में देख पाते थे, वह पहले तो आपके स्मार्टफोन में आए और देखते ही देखते अब वह घड़ियों में भी आ चुकें हैं | अब देखना यह है कि यह नई पहल खिलाड़ियों को कितना लुभाती है ?

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन