ई-कॉमर्स खबर स्टार्टअप्स

Paytm संस्थापक ने मात्र 1% हिस्सेदारी बेच कर कमाए, 325 करोड़ रुपये

Paytm जल्द ही देश में अपनी भुगतान बैंक सेवा शुरू करने जा रहा है, जिसमें संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, विजय शर्मा की 51% हिस्सेदारी होगी | इसी के चलते भुगतान बैंक के व्यापार में निवेश करने के लिए उन्होंने One97 Communications में अपनी 1% हिस्सेदारी शेयरधारकों को बेच कर, 325 करोड़ रुपये हासिल किए हैं |

हालांकि जब यह कहा जा रहा है कि शेयरधारकों ने 1 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी है, ऐसे में इस समझौते से संबंधित अन्य जानकारी को सार्वजनिक नहीं किया गया है | जबकि इसकी पुष्टि करते हुए कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि Paytm के भुगतान बैंक में निवेश को लेकर ऐसा किया गया है |

इस वर्ष, मार्च के अंत तक, विजय शर्मा की One97 Communications में 21.33 प्रतिशत की हिस्सेदारी थी, जो की अब 1 प्रतिशत घट चुकी है | वहीं One97 Communications के लिए इस सौदे का मूल्यांकन 4.7 बिलियन डॉलर का रहा |

पिछले साल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने One97 Communications के संस्थापक, विजय शर्मा को भुगतान बैंक स्थापित करने की मंजूरी दी थी | भारतीय रिजर्व बैंक के नियमों के तहत, विजय शर्मा की भुगतान बैंक में कम से कम 51% हिस्सेदारी होनी चाहिए |

इस प्रकार, उन्होंने एक बिल्कुल नई इकाई की स्थापना की है, जिसका नाम होगा, Paytm Payments Bank, इसी के साथ ही उन्होंने एक और नई इकाई, Paytm E-Commerce Private Limited बनाई है, जो कि वाणिज्य बाज़ार व्यावसाय के तहत कार्य करेगी |

Paytm Payments Bank अभी RBI से अंतिम लाइसेंस हासिल करने की प्रक्रिया से गुजर रहा है, और उचित मंजूरी के बाद ही इसका संचालन शुरू होगा | इसमें विजय शर्मा की अधिकतम हिस्सेदारी देखने को मिलेगी, जबकि One97 Communications अन्य हिस्सेदारी संजोयेगा |

One97 Communications में 40 प्रतिशत हिस्सेदारी रखने वाली चीनी कंपनियाँ, Alibaba और Ant Financial Services, भुगतान बैंक में किसी प्रत्यक्ष हिस्सेदारी के मालिक नहीं होंगे |

इसी के साथ ही Paytm 250-300 मिलियन डॉलर तक का, एक ताज़ा निवेश हासिल करने का अवसर तलाश रहा है | जिसमें से यह पहले ही 60 मिलियन डॉलर ताइवानी चिपमेकर, Mediatek द्वारा हासिल कर चुका है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन