ई-कॉमर्स खबर स्टार्टअप्स

Paytm के Digital Wallet के साथ, हो सकता है Payments Bank का विलय

भारत में ऑनलाइन भुगतान की सुविधा देने वाली सबसे बड़ी कम्पनी Paytm जल्द ही अपनी Digital Wallet की सुविधा को Payments bank की नयी सुविधा में जोड़ने की तैयारी कर रही है| ET की एक रिपोर्ट के अनुसार, रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया से Payments bank के लिए स्वीकृति मिलने के बाद जल्द-से जल्द यह कदम उठाया जाएगा|

इस बात पर मुहर लगते हुए Paytm के एक प्रवक्ता ने ET को बताया कि

“ रिज़र्व बैंक की स्वीकृति के बाद जल्द ही कम्पनी अपने Digital Wallet की सुविधा को नए Payments Payment Bank Limited(PPBL) से जोड़ देगी ”

Paytm की जनक One97 Communication ने कुछ महीनों पहले अगस्त में ही दो नयी सुविधा Paytm E-Commerce Pvt. Ltd. और Payment Payments bank सुविधा की शुरुआत की है| बाज़ार में Paytm की स्थिति देखते हुए इस नए फैसले को लिया गया है|

अपनी सुविधाओं को नए तरीकों से लोगों के बीच लाने की Paytm की इस नयी पहल को देखकर यह कहा जा सकता है की वह चीन के Alibaba जैसे मंच को देखते हुए ऐसा का रहे है| विशेषकर, Alibaba और उनके निवेश सयुंक्त रूप से हर साल 680 मिलियन डॉलर का 40 प्रतिशत साझा करते हैं|

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने Paytm के संस्थापक विजय शेखर को पहले ही In-principle payments bank का लाइसेंस दे दिया है| बता दें की विजय, Paytm के 51 प्रतिशत शेयर के मालिक हैं| जल्द ही शर्मा Payment Payments bank व्यवसाय में 112 करोड़ रुपए का निवेश करने जा रहे हैं|

भारत में उच्त्तम मूल्य के विमुद्रीकरण की अगुवाई Paytm कर रही है| कम्पनी का कहना है की प्रति दिन 5 मिलियन का कार्यसम्पादन Paytm की सहायता से किया जा रहा है जो की भारत में डेबिट और क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करने वाले लोगों के औसत में ज्यादा है|

जंहा Paytm अपनी इस नहीं सुविधा के लिए आरबीआई की स्वीकृति का इंतजार कर रहा है वंही Airtel अपनी Airtel Payment Bank की सुविधा को राजस्थान में लांच कर चुका है| उनका दावा है कि दो ही दिनों में उनके बैंक में 10,000 से ज्यादा बचत खाते खुल चुके है| दूसरे बैंकों से बिल्कुल अलग यह 7.5 की ब्याज दरों के साथ ग्राहकों को अपनी और आकर्षित कर रही है|

टेक्नो लवर, घूमना, खाना, किताबें पढ़ना और नये गैजेट्स का है शौख़| नयी चीजों को जानना और नए लोगों से मिलना है पहली पसंद|

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन