खबर माइक्रोसॉफ्ट स्टार्टअप्स

नेत्रहीनों के लिए ‘छवियों का वर्णन’ करेगा Microsoft का AI

Artificial intelligence (AI) तकनीक के विकास को लेकर, कॉर्पोरेट के बीच मची दौड़ कई सुखद परिणामों का कारण बन रही है | जहाँ Microsoft की डिजिटल सहायक तकनीक, Cortana इसका एक बहुत अच्छा उदाहरण है, वहीं कंपनी अभी भी लगातार, AI क्षेत्र में नए विकास करने को आतुर नज़र आ रही है |

इसी का परिणाम है कि अब Microsoft AI ने एक ऐसी तकनीक इज़ात की है जो Office Apps (Word, Slides) में नेत्रहीनों के लिए छवियों का वर्णन करती नज़र आएगी |

दरसल Microsoft एक ऐसी अपडेट पर काम कर रहा है, जिसकी मदद से Microsoft Word और PowerPoint जैसे एप्लिकेशन में स्वचालित रूप से छवि और स्लाइड डेक कैप्शन का सुझाव दिया जा सकेगा | Text का यह इस विशेष टुकड़ा, alt-text के नाम से जाना जाता है |  वहीं यह सुझाव अत्याधुनिक AI एल्गोरिदम के इस्तेमाल से संभव बनाए जायेंगे |

बुनियादी तौर पर जब एक उपयोगकर्ता छवियों को word या slide फ़ाइल में डालेगा, तब उसको AI की मदद से Alt-Text प्रदान किया जा सकेगा | अंततः जब इन फाइलों को किसी नेत्रहीन उपयोगकर्ता के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा, तब नेत्रहीनों की मदद के लिए तैयार किए गये सिस्टम के पास जानकारी का एक अतिरिक्त स्रोत मुहैया होगा |

Microsoft ने इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए, अपने कंप्यूटर को ‘दृष्टि संज्ञानात्मक सेवा’ से लैस किया है | इसी के साथ ही कंपनी ने व्यापक तंत्रिका नेटवर्क का भी इस्तेमाल किया है | इनकी सहायता से छवियों की सामग्री का वर्णन करने में AI को मदद मिलेगी, और वह सुझाव बिंदुओं पर Alt-Text की मदद कर सकेगा |

“ हम alt-text के लिए आपको स्वत: सुझाव की सुविधा मुहैया करवा रहें हैं, जिसकी सहायता से छवियों की पहचान संबंधी विश्वसनीयता बढ़ सकेगी, मशीन लर्निंग तकनीक के चलते, इसमें दिन-प्रतिदिन सुधार की गुंजाइश बनी रहेगी, और आप महत्वपूर्ण समय की बचत कर, प्रस्तुतियों को सुलभ बना सकेंगे ”   

हालांकि Microsoft इन सुविधाओं की पेशकश करने वालों में अकेला नहीं है, Facebook भी इसमें अग्रणी किरदार निभा रहा है |

Word और PowerPoint उपयोगकर्ताओं के लिए इस सुविधा का आगाज़ अगले वर्ष से हो सकेगा | ऐसी उम्मीद है कि यह सिर्फ़ Office 365 सदस्यों तक ही सीमित रह सकती है |

कंपनी इसी के साथ ही स्क्रीन रीडर में नेविगेशन और कीबोर्ड में सुधार सुनिश्चित करने हेतु कई अतिरिक्त टेम्पलेट्स जारी करने जा रही है |

हालांकि अब देखना यह है कि AI के इस युग में, हम मानवता की किन-किन सीमाओं तक जाकर मदद कर सकेंगे | साथ ही AI का बढ़ता विकास हमारे समक्ष अभी और भी कई आयाम पेश करेगा |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन