इलेक्ट्रानिक्स खबर मेक इन इंडिया स्टार्टअप्स

SoftBank के संस्थापक, Ola के चालकों को उपहार स्वरुप दे सकते हैं एक मिलियन इलेक्ट्रॉनिक कार

भारत के प्रति समर्पण दिखाते हुए SoftBank के संस्थापक Masayoshi Son ने 10 बिलियन डॉलर का निवेश करने की बात कही है| जिसके लिए उन्होंने प्रतिभाशाली और महत्वकांशी निर्णय लिया है| वह देश के Ola चालकों के प्रति उदारता दिखाते हुए उन्हें इलेक्ट्रॉनिक कार उपहार में देना चाहते हैं|

हाल ही में Masayoshi Son भारत में दो दिनों के दौरे के लिए आये थे जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी मुलाकात की| अपने इस फैसले को लेकर वह अब देश के अन्य सभी बड़े नेताओं से मिलने की भी तैयारियों में जुटे हैं|

ETtech के मुताबिक, उदारता दिखाते हुए Son ने भारत में Ola के चालकों के लिए इलेक्ट्रोनिक कार के उत्पादन के लिए कहा है| देश में बढ़ रहे प्रदूषण और जनसंख्या को देखते हुए भी इस निर्णय को लिया गया है| इसके साथ ही, इस फैसले से देश में 5 मिलियन नयी नौकरियों की भी संभावनाए हैं|

जापान की यह SoftBank कम्पनी हमारे देश में चलने वाली Ola Cabs की सबसे बड़ी निवेशक है| 2014 में शुरू हुई Ola की इस सुविधा के लिए पूर्व अध्यक्ष निखलेश अरोरा का बहुत बड़ा हाथ रहा है| वर्तमान समय में Ola एक बार फिर से भारत में अपना निवेश बढ़ाना चाहती है|

Son ने कहा है की Electric Vehical Project को पूरा करना उनकी इच्छा है| यदि केन्द्रीय सरकार और व्यापारियों के साथ Ola के सभी लोग इस फैसलें का समर्थन करते हैं तो जल्द ही मेक इन इंडिया के तहत इसपर और काम किया जायेगा|

इसी साल देश सोलर उर्जा के छेत्र में भी बड़े कदम उठाने वाला है जिसके तहत 20 गीगावाल्ट की सोलर उर्जा उत्तपन की जा सकेगी| इन सभी बातों को जानने के बाद भी Son को विश्वास है की वह अपनी इच्छा पूरी करेंगे और भारत में 10 बिलियन डॉलर का निवेश करेंगे|

यदि Son के इस निर्णय को स्वीकार कर लिया गया तो भारत अगुवाई करने वाले उन देशों में शामिल हो जायेगा जंहा दुनिया की बड़ी कम्पनिया देश में इलेक्ट्रिक कार का उत्पादन करेंगी जो अपने आप में एक क्रांति होगी|

टेक्नो लवर, घूमना, खाना, किताबें पढ़ना और नये गैजेट्स का है शौख़| नयी चीजों को जानना और नए लोगों से मिलना है पहली पसंद|

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन