खबर

Yatra संस्थापक ने करी मध्य दिसंबर में NASDAQ लिस्टिंग की पुष्टी, MMT-ibibo मर्जर के बारे में बताये अपने विचार

MakeMyTrip के ibibo ग्रुप को अधिग्रहित करने के पश्चात, लोग उनके प्रतिद्वंदियों के भविष्य को लेकर बहुत आशावादी नहीं दिख रहे थे। परंतु उनके सबसे निकटतम प्रतिद्वंदी Yatra.com की सह संस्थापक ने World Startup Expo के ज़रिये, सभी को उनके विज़न व अप्रत्याशित लिस्टिंग के बारे में बता कर चौंका दिया। सह संस्थापिका सबीना चोपड़ा ने ऊपर दिये मर्जर के बारे में अपने विचार भी प्रस्तूत किये।

मुद्दे से अनजान लोगों को हम बता दें कि Yatra और Terrapin 3 के, $218 मिलियन के रिवर्स मर्जर के साथ, कंपनी के NASDAQ में लिस्टिंग प्राप्त करने की खबर भी आयी थी। ख़बर थी कि कंपनी मर्जर पूरा होने के चंद दिनों में ही स्टॉक एक्स्चेंज में लिस्टिंग कर देगी। और अब, लिस्टिंग की तारीख निकट आती जा रही है।

Terrapin 3 ने 12 दिसंबर को एक शेयरहोल्डरों का मीटिंग बुलाई है, जिसमें वे Yatra के ऑनलाइन मंच के साथ मर्जर पर सभी का अंतिम समर्थन प्राप्त कर सकें। चोपड़ा ने हमारी टीम को बताया कि Yatra इस लिस्टिंग के साथ आगे बढ़ने के लिये बहुत महनत कर रही है और ये मध्य दिसंबर, संभवतः 20 से पहले ही NASDAQ में लिस्टिंग पूरी करना चाहते हैं।

मर्जर के बाद, Yatra उम्मीद कर रही है कि NASDAQ में उनके समान स्टॉक YTRA और उनके वॉरंट YTRAW नाम से उपलब्ध होंगे। वहीं Terrapin के स्टॉकों को आने वाले महीनों में, एक-के-लिये-एक कर के Yatra के समान स्टॉकों से बदल दिया जायेगा। इसका मतलब है कि अगर किसी के पास एक Terrapin का स्टॉक होगा तो उसे वापस लेकर उन्हें एक नया Yatra स्टॉक दे दिया जायेगा।

इसके साथ ही, चोपड़ा ने एक ऐसे प्रश्न का उत्तर भी दिया, जिसे जानने के लिये हम बहुत समय से बहुत ही उत्सुक थे। इस मर्जर के बारे में अपने विचार व्यक्त करते हुए, चोपड़ा ने कहा कि देश के दो सबसे बड़े यात्रा व्यापारों का मर्जर देश के यात्रा व्यापार के लिये एक बहुत ही बड़ी खुशखबरी है। उनका कहना था कि देश के लोग अब यात्रा इंडस्ट्री कि ओर भी ध्यान दे रहे हैं, और वे एक बहतरीन प्रतिद्वंद कि ओर बढ़ रहे हैं।

इस ट्रांज़ैक्शन के साथ, कंपनी को अपने मोबाइल व वेब मंचों पर लगाने के लिये पैसे भी मिल गये हैं। ये अब अपने पहले से ही विस्तृत स्थानीय व अंतर्राष्ट्रीय होटलों, एयरलाइनों, कार सेवाओं और टूर पैकेज प्रचारकों के नेट्वर्क का और भी विस्तार करने का प्रयास कर रहे हैं। इस मर्जर के बाद भी, कंपनी पहले जैसे ही कार्य करती रहेगी, और वे अपने प्रमुख प्रतिद्वंदियों MakeMyTrip के साथ प्रतिद्वंद करने के लिये अपने विशाल ऑनलाइन व ऑफ़लाइन नेट्वर्क का प्रयोग करेंगे। इसी पर, चोपड़ा ने कहा:

“Yatra एक अनेक स्तरों वाली कंपनी है। हम ऑनलाइन ही नहीं, ऑफ़लाइन भी उपलब्ध हैं और हमारे पास B2B बिक्री भी उपलब्ध है। इससे, हमें बाज़ार में स्थिरता भी मिलती है।”

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन