खबर

Facebook ने Mark Zuckerberg सहित लाखों उपयोगकर्ताओं को मृत घोषित किया

कल रात, दुनिया भर के कुछ उपयोगकर्ताओं के लिए Facebook काफ़ी अजीब अभिनय करता हुआ नज़र आया | जबकि कई उपयोगकर्ताओं को इसके माध्यम से यह भी सूचना मिली कि उनके क़रीबी दोस्त या कोई अब उनके बीच नहीं रहे (मृत !), साथ ही इस सामाजिक मीडिया दिग्गज प्लेटफ़ॉर्म ने उन्हें याद करने और अपनी संवेदना व्यक्त करने की पेशकश भी की |

जी हाँ ! आप जो पढ़ रहें हैं, वह कोई झूठ नहीं बल्कि सच है, एक मज़ाकियाँ लेकिन गंभीर सच | TechCrunch की रिपोर्ट के मुताबिक, कल Facebook ने कई उपयोगकर्ताओं की प्रोफाइल को ‘यादगार’ के तौर पर पेश किया तथा हर किसी को यह बताया कि इस प्रोफाइल से जुड़ा व्यक्ति अब मर चुका है |

मृतक की प्रोफाइल के ऊपर एक आधिकारिक स्मारक संदेश भी प्रदर्शित किया जा रहा था | जो कुछ इस प्रकार था,

armkzn3r1itxpzinu4dz

 

इंटरनेट में इस बात के तेजी से फैलने के बाद, Twitter में बहुत से लोगों ने इस बात का प्रमाण देना शुरू कर दिया कि वह अभी जिंदा हैं | हालांकि कुछ लोग इस घटना को अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव के परिणाम के मद्देनज़र, एक सांकेतिक पुनर्योजित घटना मान रहें हैं | (जो कि सुनने में हास्यपद ! और साथ ही गंभीर भी लग रहा है )

ss

हालांकि Facebook द्वारा इस गलती को सुधारते हुए माफ़ी भी मांगी गई | और उन्होंने एक वक्तव्य दिया,

“ एक संक्षिप्त अवधि के लिए आज, एक ग़लत और निराधार संदेश लोगों तक पहुँचा, जिसको तुरंत ही तत्काल प्रभाव से सही किया गया है, हम आप सबको हुई इस तकलीफ़ के लिए क्षमा चाहतें हैं और साथ ही इस समस्या के सम्पूर्ण निवारण का प्रयास किया जा रहा है, ताकि भविष्य में ऐसी घटना न हो ”

लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि Facebook ने हाल ही में ‘legacy contacts’ नामक एक सुविधा का आगाज़ किया है, जिसमें अकाउंट धारक की मौत के बाद उसके अकाउंट को चलाने के लिए, धारक किसी को अपने अकाउंट के रखवाले के रूप में चयनित कर सकता है | और इसका पता एक स्मारक संदेश से लगेगा, जैसा की कल प्रदर्शित किया गया (गलती से जनाब !) 😉

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन