खबर

सरकार ने 500 और 1000 के नोटों को अवैध घोषित किया

काले धन और ज़ाली नोटों के खिलाफ़ एक बड़ा क़दम उठाते हुए, मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने का का ऐलान किया है | इस फ़ैसले को 8, नवंबर 2016 की मध्य रात्रि से तत्काल प्रभाव द्वारा लागू कर दिया गया है | इस क़दम को भ्रष्टाचार पर एक बड़ा हमला माना जा रहा है |

मोदी ने अपने कल के वक्तव्य में यह भी कहा कि, धारक 500 और 1000 के नोटों को अपने नज़दीकी बैंकों और पोस्ट ऑफिस में जमा या बदलने की प्रक्रिया को अंजाम दे सकते हैं | यह प्रक्रिया 10 नवंबर से शुरू होगी, जिसकी अंतिम तिथि 30 दिसंबर तय की गई है |

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा,

“ आज कल नकली नोटों का राष्ट्र विरोधी और अवैध गतिविधियों के लिए जमकर इस्तेमाल हो रहा है और साथ ही यह प्रतिबंध मुख्य रूप से बढ़ते ज़ाली नोटों के प्रचलन को कम करने और काले धन को खत्म करने की एक प्रक्रिया का हिस्सा हैं, लेकिन हम सामान्य जनता को इस बात का आश्वाशन दिलाना चाहेंगे कि उन्हें इस प्रक्रिया से ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा ”

इस प्रक्रिया में आप 4000 रूपये तक की नगद राशि को किसी भी बैंक में जाकर बदलने में सक्षम होंगे, जिसके लिए आपको पहचान प्रमाण की आवश्कयता होगी | साथ ही 4,000 रुपये के ऊपर नकदी की राशि के लिए आपको बैंक खातों का इस्तेमाल करना पड़ सकता है |

और एक बार एटीएम के कार्यान्वित होने के बाद से आप 18 नवंबर तक अपने कार्ड से प्रतिदिन मात्र 2000 रूपये ही निकल सकेंगे | इस समयावधि के बाद आप प्रतिदिन के रूप में 4000 रूपये तक की राशि निकलने में सक्षम होंगे |

इस फ़ैसले से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें,

 

  • सरकार ने 500 और 1000 रुपये की नोटों को 8, नवम्बर 2016 की आधी रात से अवैध मुद्रा घोषित कर दी है |
  • इन नोटों को 10 नवंबर से 30 दिसम्बर के बीच तक, बैंकों में जमा किया जा सकता है |
  • 24 नवम्बर तक बैंकों में 4000 तक की राशि को बदलने की प्रक्रिया ज़ारी रहेगी |
  • 30 दिसम्बर के बाद से इन नोटों को सिर्फ़ भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ही स्वीकार किया जाएगा, वो भी एक लिखित आवेदन के साथ |
  • एटीएम 8,नवम्बर की आधी रात से, दो दिनों के लिए कार्य नहीं करेंगे |
  • बैंकों का सार्वजनिक लेनदेन 9, नवंबर को बंद रहेगा |   
  • अभी के लिए, विदेशी पर्यटकों को भी मात्र 5000 रूपये तक की विदेशी मुद्रा या पुराने नोटों को बदलने की इजाज़त होगी |   
  • 24 नवंबर, 2016 तक आप बैंक खाते से नकदी निकासी के रूप में, प्रतिदिन 10,000 रूपये या साप्ताहिक रूप से 20,000 रूपये तक निकल सकेंगे |

इस 9/11 ने सच में भारत को हिला कर रख दिया है, और अवैध रूप से धन जमा करने वाले लोगों को ख़ास तौर पर 😉

हालांकि अब देखना ये है कि यह क़दम जिस नियत से उठाया गया है, उसमें सरकार कितनी सफल हो पाती है | साथ ही क्या आम जानता को अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा ?

नीचे कमेंट बॉक्स में, अपने विचार जरुर हमारे साथ साझा करें |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन