एप्पल खबर सैमसंग स्मार्टफोन्स

अब सुप्रीम कोर्ट निपटाएगा, Apple और Samsung के बीच का छह साल पुराना पेटेंट विवाद

Apple और Samsung के बीच छह साल से चले आ रहे, पुराने पेटेंट के उल्लंघन संबंधी विवाद ने अब एक नया मोड़ ले लिया है | iPhone मॉडल के डिज़ाइन तत्वों की नक़ल करने संबंधित यह विवाद, अब सुप्रीम कोर्ट के पास गया है | इस विवाद पर सबसे ताज़ा फ़ैसला, पिछले साल दिसंबर में अमेरिकी संघीय अदालत द्वारा सुनाया गया था, जिसमें की Samsung को $548 मिलियन की रक़म का भुगतान, Apple को करने का फ़रमान सुनाया गया था |

समय के साथ ही यह मामला अत्यंत जटिल होता जा रहा है | सुप्रीम कोर्ट के पास दशकों बाद ऐसा कोई मामला आया है, ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले 1870 के दशक में चम्मच हैंडल से जुड़ा और 1890 के दशक में कालीन से जुड़े ऐसे मसले कोर्ट के समक्ष देखने को मिले थे |

विशेष रूप से यह पेटेंट विवाद, फोन के गोल कोनों, सामने के भाग में चारों ओर मौजूद रिम और ग्रिड ऑफ़ आइकॉन (यूजर्स व्यू) जैसी चीज़ों पर सवाल खड़ा करता है | पिछले साल दिसंबर में अमेरिकी संघीय अदालत ने Apple के पक्ष में फैसला सुनाया था |

दोनों कंपनियों ने अब तक, कानूनी फीस के तौर पर काफ़ी रुपया ख़र्च कर दिया है | अब यह देखना दिलचस्प होगा की यह मसला सुप्रीम कोर्ट के समक्ष आने से, किस कंपनी को राहत मिलती है | रोमांचक बात तो यह है कि इसके अलावा भी यह दोनों कंपनियाँ, एक दूसरे के विरुद्ध पेटेंट संबंधी करीब चार दर्जन से अधिक मुक़दमें दर्ज करवा चुकीं हैं |

एक प्रतीकात्मक जवाब में Samsung ने अदालत के समक्ष कहा,

“ अब जब यह मामला सुप्रीम कोर्ट के पास आ गया है तो हम बस इतना कहना चाहेंगे की Apple अपने मुक़दमें के विषय को लेकर ही साफ़ नहीं है, जहाँ मुक़दमा सिर्फ कुछ पहलुओं की बात करता है, वहीं Apple पूरे डिज़ाइन पर अपना टैग लगाने की कोशिशों में है “

अब देखना यह होगा कि Apple इसको लेकर अपनी स्थिति कैसे साफ़ करता है, क्या यह दिग्गज़ कंपनी डिज़ाइन के कुछ पहलुओं को लेकर अदालत के समक्ष जाएगी या फिर पूरे डिज़ाइन पर अपना अधिकार जताएगी | हालांकि अदालत के रिकॉर्ड के अनुसार, Apple ने यह तथ्य स्वीकारा है कि पेटेंट मालिक को सिर्फ एक विशेष घटक के कारण हुए मुनाफ़े का दावेदार माना जाएगा, ना की पूरे स्मार्टफोन से हुई बिक्री के मुनाफ़े का |

दिलचस्प बात यह है कि अदालत की पिछली कार्यवाहियों में, Apple ने यह भी कहा कि, Samsung यह साबित करने में विफल रही है कि उसने डिज़ाइन को, फ़ोन के सिर्फ़ एक हिस्से में इस्तेमाल किया है | अंततः कंपनी सिर्फ़ कुछ हिस्से के पेटेंट का जुर्माना चुका कर बच नहीं सकती |

इस समय मुक़दमें का यह रुख दोनों कंपनियों के लिए अच्छा साबित नहीं होगा | इस वक़्त दोनों कंपनियाँ अपने-अपने हालातों से जूझ रहीं हैं | जहाँ एक तरफ़ Samsung अपने Note 7 के फ़टने जैसे विषयों के कारण, बदनामी और अत्यधिक नुकसान का सामना कर रही है, वहीं दूसरी ओर Apple, iPhone की कम बिक्री के साथ ही, यूरोप में एक बड़े पैमाने पर $15 बिलियन की टैक्स संबंधी लड़ाई लड़ रही है |

Samsung Electronics vs. Apple की इस लड़ाई में अभी और भी आयामों के सामने आने की उम्मीद है | इस मसले में और भी ज्यादा नई जानकारियाँ पाने के लिए आप हमसे जुड़े रहिये |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन