खबर

अब Facebook Messenger में भी आपके वार्तालाप की गोपनीयता रहेगी बरकरार

गोपनीयता आज के इंटरनेट के दौर में उपयोगकर्ताओं के लिए एक प्रमुख चिंता का विषय बन गया है और Facebook ने इसी के चलते अपने मैसेंजर में अब end-to-end एन्क्रिप्शन जैसे ने फीचर की शुरुआत की है | पिछले वर्ष ही कंपनी ने WhatsApp पर एक अरब उपयोगकर्ताओं की गोपनीयता संबंधी सुरक्षा के लिए, कुछ क़दम उठाये थे और अब इसने अपने एक और चैटिंग प्लेटफ़ॉर्म के 900 मिलियन उपयोगकर्ताओं की बातचीत को निजी तौर सुरक्षित बनाने का प्रयास शुरू किया है |

एक दो महीने के लिए बीटा में सुविधा का परीक्षण करने के बाद, फेसबुक ने आज घोषणा की है कि यह सुरक्षा सुविधा का सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया गया है और अब यह नया ‘Secret Conversations’ नामक फीचर जल्द ही आपको सुविधा प्रदान करने लगेगा | यह सुविधा एंड्रॉयड और आईओएस पर, केवल इसके चैट ऐप्लिकेशन के नवीनतम संस्करण के लिए पेश की गई है |

हालांकि यह end-to-end एन्क्रिप्शन सिस्टम चैट बॉक्स में डिफ़ॉल्ट रूप से मौजूद होना चाहिए, लेकिन ऐसा न होते हुए आपको इसको सेटिंग्स मेनू में जाकर चुनना पड़ेगा | एक बार आपने इस फीचर को सक्रिय कर दिया तो आप अपनी बातचीत की गोपनीयता को लेकर सुनिश्चित रह सकतें हैं और उन दो व्यक्तियों को छोड़कर, कोई भी भेजे गए संदेशों को पढ़ने में सक्षम नहीं होगा |

यह एन्क्रिप्शन सुविधा केवल व्यक्तिगत चैट पर उपलब्ध है, और समूहों की बातचीत में इसका कोई सरोकार नहीं रहेगा | इसके अलावा यह सुविधा एक बार में सिर्फ एक सक्रिय डिवाइस पर ही काम करेगी |

facebook-chat

अब हम आपको बताते हैं कि कैसे आप किसी के साथ एक गुप्त बातचीत कर सकतें हैं | दरअसल इस end-to-end एन्क्रिप्शन को उपयोग करने के दो तरीकें हैं |

पहले में, आप बात करने वाले व्यक्ति की मौजूदा बातचीत को खोलेंगे और फिर ऊपर दिए गये ‘info’ आइकॉन को सेलेक्ट करके Secret Conversations के विकल्प को चुनेंगे | फिर आपको बातचीत के लिए एक नए पेज पर स्थानांतरित कर दिया जाएगा, जहाँ आपको अब काले रंग का मेनू बार उपलब्ध होगा |

दूसरी विधि में आपको शुरुआत के लिए नीचे दी गई चमकदार नीली बटन को क्लिक करना पड़ेगा, फिर ऊपर आ रहे  ‘lock’ या  ‘secret’ के विकल्प को चुन कर आप पुनः उस काले मेनू बार वाले सुरक्षित पेज पर जा सकतें हैं |

गुप्त वार्तालाप वाली विंडो / पेज में आप संदेशों के लिए समाप्ति समय सीमा का चयन भी कर सकतें हैं, जिसकी अवधि 5 सेकंड से लेकर पुरे दिन की भी हो सकती है |

मैसेंजर के गुप्त बातचीत की सुविधा सिग्नल एन्क्रिप्शन प्रणाली द्वारा मुहैया होती है, जिसको एक गैर लाभ वाले Open Whisper Systems द्वारा विकसित किया गया है | इस सुविधा को डिफ़ॉल्ट के तौर पे उपयोग न करने पर, WIRED के Andy Greenberg ने इसका जवाब दिया है कि शायद ऐसा Facebook द्वारा किसी भी कानूनी और राजनीतिक कठिनाइयों से बचने के लिए किया गया होगा क्यूंकि भारत और ब्राजील जैसे देशों में पहले से ही चैटिंग ऐप की गोपनीयता सुविधाओं को लेकर बहुत पेंचीदा क़ानूनी व्यवस्थायें हैं |

तो, अगर आप सुरक्षा और गोपनीयता को लेकर बहुत की व्यथित रहतें हैं तो अब आपको Facebook का नया एन्क्रिप्टेड चैट सिस्टम बहुत ही लुभाने वाला है | हाँ ! एक बात का ध्यान रखियेगा, चैट में इस नए फीचर को आपको खुद ही सक्रिय करना पड़ेगा |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन