एप्पल खबर

लंदन के प्रसिद्ध बैटरसी पावर स्टेशन में बन सकता है, Apple का ब्रिटेन मुख्यालय

जानी-मानी तकनीकी दिग्गज कंपनी, एप्पल का यूरोपीय मुख्यालय कॉर्क के बाहर, आयरलैंड में स्थित है | पर अब इसी के साथ ही कंपनी, लंदन में भी एक नया मुख्यालय खोलने की तैयारी में है |

इस नए मुख्यालय को लंदन में स्थित बैटरसी पावर स्टेशन में खोलने की उम्मीद जताई जा रही है, जहाँ कंपनी अपने, ब्रिटेन की राजधानी में 2021 तक बनने वाले आठ विभिन्न कार्यालयों में, 1400 कर्मचारियों की तैनाती करेगी |

बैटरसी पावर स्टेशन, द्वितीय ग्रेड की सूचीबद्ध संपत्ति है, जिसका £9 बिलियन की विकास परियोजना के रूप में अद्भुत नवीकरण किया गया है और एप्पल इस भव्य ईमारत के सभी छह मंजिलों पर अपना अधिकार स्थापित करेगी |

हमारी टीम के लिए यह एक ही जगह पर, एक साथ काम करने का एक सुनहरा अवसर है और इतिहास से भरी इस ईमारत का शानदार नवीकरण हमें और प्रोत्साहन देगा

-एप्पल का वक्तव्य

कैलिफोर्निया की यह कंपनी जहाँ एक तरफ़ अपने कॉर्क में स्थित 6000 कर्मचारियों वाले यूरोपीय मुख्यालय के भविष्य में भी संचालन का दावा करती है, वहीं यह नया लंदन का मुख्यालय, अब तक अमेरिका के बाहर बने इसके सबसे बड़े मुख्यालय का रूप ले सकता है |

Brexit की घटना के बाद राजनीतिक और आर्थिक असमानता से जूझ रही ब्रिटेन सरकार ने इस निर्णय का समर्थन किया है | एप्पल का यह ऑफिस, कुल छह मंजिलों में, 500,000 वर्ग तक की जगह ले सकता है, जो वहाँ कुल उपलब्ध कार्यालयों का लगभग 40 प्रतिशत हिस्सा है |

एक विशाल केंद्रीय आलिंद के साथ पूर्व बायलर हाउस के अंदर बने शीर्ष छह मंजिलों पर एप्पल अपना कब्ज़ा कर सकता है | वहीं लंदन के आर्किटेक्ट, विलकिंसन आयर की तीन मंजिलों पर दुकाने, एक 2000 सीटर ऑडिटोरियम और 253 अपार्टमेंट बनाने की भी योजना है |

एप्पल इसलिए अब इस प्रोजेक्ट को लेकर, अपनी कमर कसता नज़र आ रहा है, ताकि वह न सिर्फ ब्रिटेन की राजधानी में अपना विस्तार कर सके, बल्कि वहाँ की स्थानीय संस्कृति और जमीनी स्तर पर पुनर्वास का भी समर्थन कर सके |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन