खबर स्टार्टअप्स

डॉक्टरों के लिए सामाजिक नेटवर्क प्रदान करने वाले ऐप ‘डेली राउंड’ ने एक्सेल भारत और असुका होल्डिंग से प्राप्त किया निवेश

डॉक्टरों के लिए सामाजिक नेटवर्क और मेडिकल जर्नल की संयुक्त सेवा प्रदान करने वाले ऐप, ‘डेली राउंड’ ने एक्सेल भारत और असुका होल्डिंग की तरफ से अघोषित रक़म के रूप में निवेश मिलने की घोषणा की है |

इन नए निवेशकों के अलावा, मौजूदा निवेशक बीनोस और पावरहाउस वेंचर्स ने भी इस दौर में भाग लिया | इस निवेश के साथ ही कंपनी अब और अधिक सामग्री जोड़ने और मंच पर अपने उपयोगकर्ता आधार का विस्तार करने का मन बना रही है |

यह कंपनी डॉ दीपू सबिन, निम्मी चेरियन और प्रियांक चौबे के सहयोग से जनवरी 2014 में स्थापित की गई थी | इससे पहले निम्मी कुख्यात आकाश टैबलेट परियोजना में एक अनुसंधान अधिकारी के रूप में काम कर चुकें हैं और साथ ही प्रियांक भी एक ग्राहक सगाई मंच, Spiffout में बतौर सीटीओ काम कर चुकें हैं |

यह कंपनी डॉक्टरों के लिए शैक्षिक नेटवर्क के साथ ही, फार्मा एनालिटिक्स और ई-ब्यौरा प्रदान करने का काम भी करती है |

डॉ दीपू सबिन के कथनानुसार,

हमारे 70% उपयोगकर्ता भारत में और शेष विदेशों में हैं और हमने चिकित्सा क्षेत्र में अधिक ज्ञान प्राप्त करने हेतु काफी निवेश किया है साथ ही इलाज़ के लिए हम अधिक से अधिक स्थानीय संदर्भों की तलाश कर रहें हैं

इनकी कुल 32 लोगों की अपनी टीम में 8 डॉक्टर हैं | डेली राउंड का दावा है कि इसने अपने मंच पर 40,000 से अधिक मामलों का अध्ययन किया है | इसने बाल चिकित्सा, रेडियोलॉजी और कार्डियोलॉजी के रूप में विशिष्ट प्रथाओं के लिए आवेदन पत्र की शुरुआत की है |

विशेष रूप से डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मियों के लिए, प्रीमियम मामले के अध्ययन, विज्ञापन और विश्लेषण समाधान जैसी चीज़ों के माध्यम से इसने अपने मंच के नए मुद्रीकरण की उम्मीद जताई है |

यह मोबाइल ऐप एंड्रॉयड और आईओएस दोनों प्लेटफार्मों पर उपलब्ध है | कंपनी द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, इसके एप्लिकेशन को वर्तमान में 250,000 से अधिक लोगों द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा है |

पिछले साल कंपनी ने सीड निवेश के दौर में Kae Capital, Teruhide Sato और GSF के माध्यम से $500,000 का निवेश अर्जित किया था | इससे पहले भी यह कंपनी जुलाई 2013 और 2014 में निवेश के तौर पर कुछ अज्ञात राशि जुटा चुकी है |

इस स्टार्टअप ने दुनिया भर में प्रमुख चिकित्सा संस्थानों जैसे NYU Lagone, एम्स दिल्ली, पेनिन्सुला मेडिकल स्कूल और 78 से अधिक अन्य संस्थानों के साथ भागीदारी की है | इसकी पत्रिका में 190 से अधिक क्लिनिकल मामलों का संग्रह है जिसमें 120 से अधिक योगदानकर्ताओं का सहयोग शामिल है |

नई तकनीकों और विचारों के समायोजन को तलाशता मुसाफ़िर, जिसका मानना है कि उद्यमशीलता और प्रोद्योगिकी मिलकर ही विकास और विस्तार का अवसर प्रदान करतीं हैं |

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन