इलेक्ट्रानिक्स खबर स्टार्टअप्स

उपभोक्ता-तकनीक स्टार्टप Witworks को अपना पहला कलाई पर पहना जा सकने वाला डिवाइस ‘Blink’ लांच करने के लिये निवेश

बेंगलुरु के उपभोक्ता-तकनीक स्टार्टप Witworks ने आज घोषणा करी कि उन्हें सीड निवेश में, Fireside Ventures और Investopad की अगुवाई में निवेश प्राप्त हुआ है। इस सत्र में P39 Capital समेत दूसरे निवेशकों ने भी हिस्सा लिया, जिनमें अनुपम मित्तल (Shaadi.com के संस्थापक), प्रणय जीवराजक (Ola Cabs के सी.ओ.ओ.), मनिंदर गुलाटी और अभिनव सिन्हा (OYO Rooms के) प्रमुख हैं।

कंपनी इस निवेश को विकास के लिये प्रयोग कर, अपना पहला कलाई पर पहना जा सकने वाला डिवाइस ‘Blink’ लांच करेगी। कंपनी की वेबसाइट पर इसे सबसे अडवांस, इंट्यूटिव और सुंदर डिवाइस बताया गया है।

Witworks ने न केवल इसका हार्डवेयर विकसित किया है, बल्कि इसकी ज़रूरत के अनुसार सॉफ़्टवेयर में भी बदलाव लाये हैं। Blink स्मार्टवॉच Android Wear 2.0 के सुधारे गये संस्करण पर कार्य करती है, जिसका नाम Marvin है और ये आवाज़ से एनेबल भी हो जाती है।

इसी पर बयान देते हुए Witworks के सह-संस्थापक सोमनाथ महर ने कहा:

“इसकी (Blink की) तकनीक अपनी जगह पर है और हमारे उपभोक्ता इसकी प्रतीक्षा कर रहे हैं। परंतु कम प्रयोग केसों, इंटरैक्शन में सुविधा और सच्ची डिज़ाइन इंपथी के कारण हमने इसकों रोक रखा है।

महर ने ये भी कहा कि वे सितंबर के अंत तक ये डिवाइस लांच कर देंगे और उनका मानना है कि तब तक उनके पास नोटिफ़िकेशन और फ़िटनेस का ध्यान रखने के अलावा और भी प्रयोग केस हो जायेंगे। उम्मीद है कि इसमें वे कई ऐसे नये फ़ीचर डालेंगे, जो कि वे खुद शुरू से विकसित करेंगे। साथ ही, इससे आप बिना इंटरनेट कनेक्शन के भी ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं।

साथ ही, Blink को Android और iOS दोनों के साथ ही कंपैटिबल बनाया गया है। ये फ़ैशन में भी कम नहीं, क्योंकि आपके पास स्टील के अनेक रंगों के डायलों में से चुनाव करने का विकल्प होगा। साथ ही, इसका पट्टा भी बदला जा सकेगा।

“Witworks दिसंबर तक Blink के 20,000 युनिट बाज़ार में लाकर उसे अपने वेबसाइट पर बेचेंगे। इसका दाम हम करीब $200 रखने के विचार में हैं।”

महर ने कहा।

IIT खड़गपुर के तीन पूर्व छात्रों सोमनाथ महर, अंकित डीपी और चंद्रशेखर अय्यर द्वारा 2014 में संस्थापित Witworks, Think Innoventions Pvt. Ltd. का उपभोक्ता फ़ेसिंग ब्रांड है। विचारों को प्रोडक्ट में बदलने के अपने उद्देश्य पर ही कार्य करते हुए, वे अब होम व लाइफ़स्टाइल सेगमेंट में जुड़े हुए डिवाइस बना रही है।

20 लोगों के टीम साइज़ के साथ, कंपनी अपनी स्मार्टवॉच के विकास के लिये इस समय भारत, हॉन्ग कॉन्ग और चीन के शेंज़ेन में कार्य कर रही है। Blink के लांच के बाद, वे प्रोडक्शन को बढ़ान के साथ अपने नये प्रोडक्ट पर कार्य करेंगे।

Witworks अपनी टीम को पांच गुणा बढ़ा कर अपनी तकनीक टीम में और भी लोग जोड़ना चाहती है। क्योंकि प्रोडक्शन चीन में होना है, तो अगले वर्ष तक वे हॉन्ग-कॉन्ग और शेनज़ेन में अपने ऑपरेशन बढ़ा कर कार्यालय सेट अप करने के विचार में हैं। 2017 तक, ₹30-40 करोड़ के रेवेन्यू कमाने के लक्ष्य के साथ ही, वे अगले छः से आठ महीनों में एक ए सत्र के लिये बाज़ार में भी रहने के विचार में हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन