Uncategorised

मांस डिलिवरी स्टार्टप EasyMeat ने स्थानीय प्रतिद्वंदी NonVeggies को अधिग्रहित किया

अभी तक भारत के भोजन डिलिवरी स्टार्टपों में हमने कोई एकत्रिकरण या फिर अधिग्रहण नहीं देखा है। कइयों ने निवेश की कमी के कारण अपनी दुकानें बंद कर दी हैं, तो FoodPanda जैसे बड़े खिलाड़ी अब लाभार्थी होने कि ओर ध्यान लगा रहे हैं। इस जगत में पुणे का EasyMeat एक अपवाद के तौर पर उभरा है, जिन्होंने पुणे के ही दूसरे मांस डिलिवरी स्टार्टप NonVeggies को अधिग्रहित कर लिया है।

EasyMeat, NonVeggies के उपभोक्ताओं की सहायता से अपना स्थान मज़बूत करना चाहती है। कंपनी ने इस पूरी तरह कैश डील की जानकारियां उजागर नहीं करी हैं।

NonVeggies दिसंबर 2014 में अस्तित्व में आयी थी। मात्र डेढ़ सालों में, इनका दावा है कि इन्होंने पश्चिमी पुणे में एक बहुत मज़बूत उपभोक्ता बेस बना लिया है, जहां इनके कुल 1500 उपभोक्ताओं में से 68% दोबारा आने वाले उपभोक्ता हैं।

इससे मध्य पुणे में स्थित EasyMeat को पूरे बाज़ार तक पहुंच बनाने में सुविधा होगी। इसी के बारे में बात करते हुए EasyMeat के सह-संस्थापक शिव शरण ने बताया:

“NonVeggies की टीम का वेयरहाउज़ पश्चिमी पुणे में स्थित है, जो कि हमारे मध्य पुणे के वेयरहाउज़ से दूर है। इससे, हमें पूरे शहर पर अपनी पकड़ बनाने में और उपभोक्ता जुटाने में सहायता मिलेगी।”

NonVeggies तीन श्रेणियों में मांस उपलब्ध कराते हैं और उन्होंने इसी के लिये 15-20 वेंडरों से साझा भी कर रखा है। ये पश्चिमी पुणे के लिये हर महीने करीब 1000 ऑर्डर पूरे कर देते हैं, जिससे इस क्षेत्र में इनकी प्रसिद्धी का प्रमाण मिलता है। इसके साथ ही, इनके पास बिना पंजिकरण सामान मंगाने वालों का उपभोक्ता बेस भी 300-400 की संख्या में है।

वहीं EasyMeat जुलाई में रोज़ाना के औसतन 45 ऑर्डर पूरे करने पर आ चुके हैं। वे माह-प्रति-माह में 30% की वृद्धी देख रहे हैं। वे पक्षियों के मांस, सीफ़ूड और मटन श्रेणियों में मांस उपलब्ध कराते हैं।

परंतु स्टार्टप को पक्षियों के मांस या पोल्ट्री से सबसे अधिक मांग आती है। NonVeggies के अधिग्रहण को बाद, वे रोज़ाना को 100 ऑर्डरों तक पहुंचने को विचार में हैं।

EasyMeat अपना व्यापार और भी मज़बूत बनाने के लिये रेस्त्रां से B2B साझेदारियों पर भी निर्भर हैं। इन्होंने 9 सप्लायरों से साझा किया है और वे अब डिलिवरी के लिये रेसित्रां से साझेदारियां बनाने के विचार में हैं।

इसी पर बयान देते हुए शरण ने कहा:

“साझेदारियों की बात करें तो Murphies पुणे में एक ऐसा रेस्त्रां है जिनका नाम हम उजागर कर सकते हैं। आने वाले महानों में रेस्त्रां साझेदारियों के ज़रिये B2B सेगमेंट अच्छे लाभ दिखा सकता है।”

पुणे में अपना व्यापार मज़बूत बनाने के बाद, EasyMeat आने वाले तीन महीनों में अपना व्यापार बेंगलुरु में विस्तृत करने के विचार में है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन