खबर स्टार्टअप्स

Zone Startups भारत के ऐक्सेलेरेटर empoWer ने तीन महिलाओं द्वारा चलाये जाने वाले स्टार्टपों में निवेश किया

मुंबई आधारित और “BSE स्थित” स्टार्टप ऐक्सेलेरेटर Zone Startups, जिन्होंने $25 मिलियन का राउंड पूरा किया था, ने अपने ऐक्सेलेरेटर कार्यक्रम “empoWer” के ज़रिये तीन महिलाओं द्वारा चलाये जा रहे स्टार्टपों में ₹60 लाख का निवेश किया है।

Zone Startups India ने विज्ञान व तकनीक डिपार्टमेंट, Vodafone, Google और Nishith Desai Associates के साथ साझे में महिलाओं द्वारा चलाये जा रहे स्टार्टपों के लिये ऐक्सेलेरेटर कार्यक्रम “empoWer” लांच किया था। कहा जा रहा है कि महिला उद्यमियों के लिये बनाया गया यह कार्यक्रम अपने जैसा पहला है।

उन्हें देश भर से करीब 180 आवेदन मिले हैं। उन 180 में से कार्यक्रम के लिये 15 को चुना गया था। कार्यक्रम के दौरान, जो कि 6 स्पताहों के लिये चला, उन्हें 40 मेंटरों से मिलने का और इंडस्ट्रियों में जाने का मौका मिला।

इसपर बयान देते हुए, अजय रामसुब्रमण्यम ने कहा:

“आवेदनों की संख्या हमारी उम्मीद से कहीं अधिक थी। सिर्फ़ 15 महिला संस्थापकों को चुनना एक बड़ा चैलेंज था, परंतु ये चैलेंज अच्छा था। परंतु इससे empoWer जैसे कार्यक्रम की ज़रूरत और भी स्पष्ट हो जाती है। आवेदन देने वाले अधिकतम संस्थापकों ने माना कि उनके पास एक मज़बूत मित्र नेट्वर्क, इंटस्ट्री से कनेक्शन और मेंटरों से ऐक्सेस की कमी थी।”

6 सप्ताहों के प्रोग्राम के खतम होने के बाद, Zone Startups India ने पहला empoWer डेमो 29 जुलाई को किया था। इसे BSE International Convention Centre में आयोजित किया गया था और इसमें 150 गेस्टों ने हिस्सा लिया, जिसमें निवेशक और बड़े कॉर्पोरेट शामिल थे।

कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण 15 स्टार्टप पिचें था। Zone Startups India के मुताबिक, स्टार्टपों की गुणवत्ता और उनके द्वारा दूर करी जा रही दिक्कत सभी उच्च कोटी की है। पिचों के बाद कयी पुरस्कार दिये गये।

Zone Startups India ने महिलाओं द्वारा संस्थापित तीन उच्च स्टार्टपों को एक्विटी मुक्त सीड निवेश में ₹10 लाख, ₹7 लाख और ₹5 लाख दिये। विजयी थे Saral Designs, DAZL और Shubh Puja। कैश ईनाम विज्ञान और तकनीक डिपार्टमेंट और Vodafone कि ओर से दिये गये थे।

साथ ही, GIZ ने भी शोध व प्रोटोटाइप विकास के लिये तीन स्टार्टपों को ₹7 लाख का ईनाम दिया। इस श्रेणी के विजेता थे Algaari Systems, Math Adventures और Project Mudra।

अंतर्राष्ट्रीय स्केलेबिलिटी संभावना के आधार पर, Cloudrino को कनाडा के उच्चतम इंक्यूबेटर DMZ में दो सप्ताहों के लिये रहने का प्रस्ताव मिला है। साथ ही, दिल्ली आधारित Vanity Cube, एक ऑन-डिमांड खूबसूरती बाज़ार को वैश्विक डिज़ाइन कंपनी Dccper से £5000 मिले।

कार्यक्रम का कीनोट अड्रेस विकी सॉन्डर्स, एक अंतर्राष्ट्रीय महिला सपोर्ट संस्था SheEO की संस्थापिका ने दिया। उन्होंने कहा कि वैश्विक तौर पर, विश्व भर के मात्र 4% वेंचर कैपिटल निवेश महिला उद्यमियों को जाते हैं।

इस कार्यक्रम के बारे में कमेंट करते हुए, ShubhPuja.com की संस्थापक व सी.ई.ओ. सौम्या वर्धन ने कहा:

“पिछले छः सप्ताह बहतरीन रहे हैं। मैंने MBA किया है। empoWer कार्यक्रम स्टार्टपों के लिये MBA है।”

FinMitra की सह-संस्थापिका भार्गवी एस. ने कहा:

“कार्यक्रम मेरी उम्मीदों से बहुत अच्छा रहा है। मेंटरों की गुणवत्ता बहतरीन थी और सेशन कंटेंट भी। मैंने कभी ऐसे कार्यक्रम के साथ कार्य नहीं किया है और मुझे नहीं पता था कि मेरे पास किस चीज़ की कमी है – इतने सारे अच्छे लोग और कनेक्शन और जानकारी।”

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन