खबर स्टार्टअप्स

गहनों के ऑनलाइन ई-कॉमर्स स्टोर BlueStone को एक बहतर डिज़ाइनर पर्यावरण बनाने को लिये डी सत्र में ₹200 करोड़

Caratlane के अधिग्रहण के बाद, कीमती गहनों के ऑनलाइन ई-कॉमर्स स्टोर BlueStone अपने युद्ध कोष में और भी निवेश ला रहा है। ऑनलाइन गहना स्टोर ने आज घोषणा करी कि उन्हें IIFL व Accel Partners की अगुवाई में डी सत्र में ₹200 करोड़ का निवेश प्राप्त हुआ है। IIFL व Accel के अलावा जिन मुख्य निवेशकों ने इस सत्र में हिस्सा लिया, उनके नाम हैं, IvyCap Ventures, Kalaari Capital और RV Investments। कंपनी और भी गुणी गहना डिज़ाइनरों को नियुक्त कर के एक भरा पूरा डिज़ाइनर पर्यावरण बनाना चाहती है। BlueStone के संस्थापक व सी.ई.ओ. गौरव सिंह कुश्वाहा ने कहा:

हम रेवेन्यू को चार गुणा बढ़ा कर 2018 तक करीब ₹1000 करोड़ के रेवेन्यू कमा लेना चाहते हैं, और हम इस लक्ष्य को लाभकारी और लंबे समय तक चलने वाले तरीके से प्राप्त करना चाहते हैं। नया सत्र कंपनी के वर्टिकली इंटिग्रेटेड फ़ुल स्टैक व्यापार मॉडल की सफलता को और गहना क्षेत्र की विशाल संभावनाओं की महत्ता को और भी दर्शाता है।

इस सत्र में प्राप्त हुए निवेश के साथ कंपनी के कुल निवेश $60 मिलियन पहुंच गये हैं। उन्हें इससे पहले ए सत्र में $5 मिलियन, बी सत्र में $10 मिलियन और सी सत्र में $15.8 मिलियन प्राप्त हुए थे। BlueStone को 2011 में गौरव कुश्वाहा और विद्या नटराज ने स्थापित किया था। इनके शुरवाती बैकरों में Dragoneer, Saama Capital, रतन टाटा और मीना गणेश भी शामिल हैं। कंपनी विशेष डिज़ाइनों के गहने बेच रही है और इनके मंच पर करीब 5000 से भी ऊपर के आइटम हैं। इनके पास जस्ट-इन-टाइम निर्माण मॉडल है, जहां ऑर्डर होने के कुछ ही दिनों के अंदर गहने बनाये जाते हैं। डिज़ाइन, निर्माण व लॉजिसटिक्स सब अपने हाथ मे होने के कारण, कंपनी का मानना है कि वे बहुत जल्द बहुत सी वृद्धी कर सकते हैं और बाज़ार के चलन के हिसाब से अपने गहनों में बदलाव ला सकते हैं। आने वाले चार सालों में कंपनी अपनी ऑफ़रिंग को 300,000 तक ले जाना चाहती है, जो कि इस क्षेत्र के किसी भी खिलाड़ी के लिये सबसे अधिक है। Accel Partners में साझेदार प्रशांत प्रकाश ने कहा:

BlueStone.com ने एक विशेष गुणवत्ता दिखायी है और भारत की ऑनलाइन गहना रीटेल इंडस्ट्री में 3-D विज़ुअल मर्चेंडाइज़िंग से लेकर हर चैनल के ज़रिये घर पर ट्राय ऑन की सुविधा समेत कई मील के पत्थर हासिल किये हैं। इस ब्रांड की अनेक संभावनाओं के कारण हम उनसे अपने साझे को आगे लेकर जाने के लिये उत्साहित हैं।

BlueStone के पास इस समय विविध ऑपरेशनों के लिये 400 से भी ऊपर लोग हैं। ये गहना क्षेत्र की एक वर्टिकली इंटिग्रेटेड कंपनी है। उनके पास अपनी निर्माण सेवा, लॉजिस्टिक्स और कच्चा माल लाने के लिये लोग हैं। इनके मुताबिक, भारतीय गहना बाज़ार इस समय $60 बिलियन का है और संभावना है कि आने वाले पांच वर्षों में ये $110 बिलियन का आंकड़ा भी पार कर दे। परंतु इसमें ऑनलाइन भागेदारी सिर्फ़ $2-3 बिलियन की है। ऑनलाइन गहना बाज़ार में, BlueStone इस समय Tiger Global द्वारा बैक Caratlane से और बेंगलुरु के Melorra से सीधा प्रतिद्वंद कर रही है। हाल ही में प्रचलित घड़ी साज़ कंपनी Titan ने Caratlane में 62.5% का मजॉरिटी स्टेक अधिग्रहित कर लिया, जिससे वे अपने प्रिमियम ब्रांड Tanishq को और भी मज़बूत बना सकें। Caratlane भी BlueStone की तरह ही अपने गहनों को डीज़ाइन व निर्मित करते हैं, परंतु उनके पास एक सॉलिटेयर बाज़ार भी है, जिसके लिये वैश्विक वेंडरों से प्रोडक्ट लाये जाते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन