खबर स्टार्टअप्स

Venture Catalysts को अपनी उपस्थिती की वृद्धी और अपने एंजल नेट्वर्क के भारत में विस्तार के लिये Zaffiro Ventures से $500,000

मुंबई के सीड निवेश और इनोवेशन मंच Venture Catalysts ने घोषणा करी है कि उन्हें Zaffiro Ventures से $500,000 का निवेश प्राप्त हुआ है। ये भारत में Zaffiro का पहला निवेश भी है।

प्राप्त हुआ निवेश आने वाले तीन सालों में इनकी उपस्थिती को अहमदाबाद, बेंगलुरु, दिल्ली और रायपुर व अन्य शहरों में विस्तार करने हेतु प्रयोग किया जायेगा। वर्ष के अंत तक ये पांच शहरों में प्रवेश करना चाहते हैं, जिसके दो सालों बाद ये पांच और शहरों में प्रवेश करेंगे।

ये स्टार्टपों को फ़ंड उपलब्ध कराते हैं, जिससे ये निम्नलिखित तरीकों से उन्हें सहायता उपलब्ध कराते हैं: इन्क्युबेशन, साथ में कार्य करने का स्थान, कॉर्पोरेट साझेदारियां और एंजल नेट्वर्कों का ऐक्सेस। इस निवेश के साथ कंपनी का निवेश के बाद का वैल्युएशन ₹40 करोड़ हो गया।

Venture Catalysts को अनिल जैन, अनुज गोलेचा, अपूर्व शर्मा और गौरव जैन ने स्थापित किया था। इनके पास अभी 600 एंजलों की नेट्वर्क है। अभी तक इन्होंने 10 निवेश किये हैं और उनके साथ कार्य कर रहे स्टारिटपों के लिये $3 मिलियन से भी ऊपर का निवेश जुटाया है।

इनके पार्टफ़ोलियो में Siftr Labs, vPhrase Analytics, LenDenClub आदि जैसे स्टार्टप शामिल हैं। फ़र्म आने वाले वर्ष में अपना पोर्टफ़ोलियो 10-15 स्टार्टपों में निवेश कर के और बढ़ाना चाहता है। ये शुरवाती दौर के स्टारटपों में ₹75 लाख से ₹1.5 करोड़ के बीच निवेश करते हैं और अब ये IoT, AI, प्रचार तकनीक, वर्चुअल रियैलिटी, शिक्षा, ई-कॉमर्स और रीटेल कि ओर केंद्रित हैं।

अगले साल तक ये सिर्फ़ मुंबई में ही पांच साथ पर काम करने के लिये केंद्र खोलना चाहते हैं। इन्होंने अभी Cox and Kings और Housing Development Finance Corp. से रणनैतिक साझेदारी कर रखी है। ये कार्य के लये स्टार्टपों को रणनैतिक गाइडेंस, रणनैतिक निवेश, लीड जनरेशन और अन्य चीज़ों उपलब्ध कराते हैं।

इन्होंने हाल ही में सूरत, गुजरात में विस्तार किया। ये अब सूरत से आने वाल महीनो में 100 नये एंजल निवेशक लाने के विचार में हैं। हर एंजल निवेशक सालाना तौर पर Venture Catalysts के ज़रिये ₹50 लाख से ₹1 करोड़ का निवेश करता है।

निवेश पर कमेंट करते हुए Zaffiro Ventures की सह संस्थापिका रेवती रॉय ने कहा:

“Venture Catalysts से बात कर के हमने जाना कि कैसे नये दौर के तकनीक स्टार्टपों को सपोर्ट करने व पालने के लिये कितना मज़बूत ईकोसिस्टम बनाया जाता है। इसी लिये, नये मंच की स्थापना कर चक्के का पुनः निर्माण करने से तो बहतर एक अच्छे से तैयार किये गये प्रोसेस में सिनर्जी तैयार करना है।”

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन