ई-कॉमर्स खबर

Snapdeal ने क्षेत्रीय ऑपरेशन को घटाने की ख़बर को नकारा

आज सुबह ET में छपी Snapdeal के स्केल डाउन की ख़बर को ई-कॉमर्स ने कड़े रूप से नकारा है। The Tech Portal को ई-मेल से भेजे गये बयान में Snapdeal ने ख़बर को बेबुनियाद और गुमराह करने वाली बताया है और दावा किया है कि वे अपनो सभी बाज़ारों में वृद्धी देख रहे हैं।

रिपोर्ट में ET ने बताया कि Snapdeal मुंबई, बैंगलोर, कोलकत्ता और हैदराबाद जैसे बड़े कार्यालयों समेत कुछ क्षेत्रीय कार्यालयों में अपना ऑपरेशन सीमित कर रहे हैं।

कंपनी में ही स्थित कुछ अनाम सूत्रों का हवाला देते हुए, ET ने यह संभावना जतायी थी कि आने वाले छः महीनों में निवेश प्राप्त करने में विफलता हुई, तो Snapdeal अपने कुछ कार्यालय बंद कर सकती है।

रिपोर्ट पर प्रातिक्रिया देते हुए, Snapdeal ने एक बयान में कहा:

“Snapdeal, ET में (मई 17, 2016 को) छपी Snapdeal के क्षेत्रीय कार्यालयों में ऑपरेशन सीमित करने की ख़बर को कड़े रूप से नकारती है, ये ख़बर बेबुनियाद व गुमराह करने वाली है। हम देश के अपने सभी बाज़ारों में बढ़ंत ही देख रहे हैं। गुड़गांव के हमारे कैंपस और 8 शहरों में उपस्थित हमारे क्षेत्रीय कार्यालयों में बहुत अनुभवी टीमें हैं, जो कि कंपनी की वृद्धी कि ओर लगातार परिश्रम कर रही हैं। हमने हाल ही में अपने मुंबई व बेंगलुरु कार्यालयों में नये लोगों को नियुक्त किया है और हम चेन्नई के लिये भी यही करने वाले हैं।”

ऊपर दिया गया बयान, ET की रिपोर्ट के बिलकुल ही विपरीत है, जिसके मुताबिक कंपनी ने अपने अनेकों कर्मचारियों को दिल्ली कार्यालय में स्थानांतरित होने के निर्देश दिये, जिसके कारण वे कर्नचारी इस्तीफ़ा देने पर मजबूर हो गये।

उन्होंने एक वरिष्ठ पदाधिकारी का हवाला देते हुए ये भी लिखा कि जो कर्मचारी स्थान बदलने के लिये कहे जाने के बाद ऐसा करने में विफल रहे, उन्हें भी दो महीनों का सर्वेंस पैकेज दिया गया है।

उन्होंने ये भी लिखा कि Snapdeal के पर्फ़ामेंस इंप्रूवमेंट प्लान के नाम पर कंपनी के कुछ असंभव कार्यों को करने की मांगों से परेशान होकर भी कुछ कर्मचारियों ने अपने पद त्यागे।

फ़रवरी में ET ने ही ये ख़बर छापी थी कि कंपनी ने 200 कर्मचारियों को नोटिस पर रखा है और उन्हें 30 दिन के Performance Improvement Plan से गुज़रने का निर्देश दिया है।

ET रिपोर्ट में ही, Snapdeal की एक वक्ता का अक बयान दिया गया, जिन्होंने Snapdeal के ऑपरेशन में कटौती और कर्मचारियों की निकासी की ख़बर को नकारा। ET में दिये गये बयान में कहा गया कि:

“जैसे-जैसे NCR आधारित हमारे छोटे लोकेशनों की लीज़ समाप्त हो रही है, हम उन टीम मेंबरों को गुड़गांव कैंपस में भेज रहे हैं। गुड़गांव कैंपस को इतने लोगों को हैंडल कर सकने के लिये ही बनाया गया है। कोई भी मेंबर अगर अपने निजी कारण से निकासी लेने का विचार करता है तो उन्हें उनके कॉन्ट्रैक्ट के मुताबित सभी बाकी पेमेंट दे दी जाती है।”

इसी साल की शुरवात में Snapdeal की अभिभावक कंपनी Jasper Infotech को Ontario Teachers’ Pension Plan और सिंगापुर के Brother Fortune Apparel से $200 मिलियन का निवेश प्राप्त हुआ था।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन