ई-कॉमर्स खबर स्टार्टअप्स

पेटिएम ने स्नैपडील के यूनीकॉमर्स के विरुद्ध व्यापार डेटा चुराने के इलज़ाम में मुकदमा ठोका

भारत की दो बड़ी कैब ऐग्रिगेटर कंपनियों Ola और Uber के बीच की क़ानूनी जंग के बाद अब ऐसी ही एक और जंग सामने आ रही है, परंतु ई-कॉमर्स क्षेत्र में, और वो भी दो ऐसी कंपनियों के मध्य, जिनके बीच एक निवेशक समान है – Alibaba। PayTM ने Unicommerce के विरुद्ध एक याचिक दर्ज करी है, जो कि Snapdeal की ई-कॉमर्स मैनेज करने के लिये सॉफ़्टवेयर उपलब्ध कराने वाली कंपनी है।

PayTM ने Unicommerce पर इस मंच के विक्रेताओं के ज़रिये गुप्त व्यापार डेटा ऐक्सेस करने का इलज़ाम लगाया है। इनका ये भी दावा है कि Unicommerce बिना किसी क़ानूनी अधिकार के PayTM के लोगो व नाम का प्रयोग कर रही है।

क्योंकि PayTM के अनेक विक्रेता अनेक बाज़ारों और कार्टों के मध्य ऑर्डरों व इंवेंटरियों को मैनेज करने के लिये Unicommerce का प्रयोग कर रहे हैं, Snapdeal इस डेटा का प्रयोग कर PayTM के विरुद्ध रणनीति तैयार कर सकती है। डेटा महत्वपूर्ण जानकारी भी उपलब्ध करा सकता है, जो कि कंपनी के लियो हानीकारक हो।

Unicommerce एक विविध चैनल ऑर्डर पूरा करने का मंच है, जिसके ज़रिये ई-कॉमर्स विक्रेता कुशलता से अपने सामान को बेच सकते हैं। इसे 2012 में अंकित पृथी, विभू गर्ग, करुण सिंघला और मनीष गुप्ता ने स्थापित किया था।

इन्हें 2013 में Nexus Venture Partners से एक गुप्त रक़म का निवेश प्राप्त हुआ था। 2014 मे इन्हें Tiger Global Management से $10 मिलियन मिले। पिछले साल Snapdeal ने इसका अधिग्रहण कर लिया।

PayTM और Snapdeal दो सबसे बड़े क्षेत्रों में प्रतिद्वंदी हैं – भुगतान व ई-कॉमर्स। Snapdeal ने FreeCharge के अधिग्रहण के साथ भुगतान क्षेत्र में प्रवेश किया तो PayTM ने भुगतान मंच के रूप में ही शुरवात करी और कॉमर्स क्षेत्र में भी विस्तार किया, और अभी ये मोबाइल कॉमर्स क्षेत्र का सबसे बड़ा नाम हैं।

इससे पहले, Uber ने Ola के विरुद्ध याचिका दायर करी थी, जिसमें कहा गया था कि Ola ने नकली अकाउंट बना कर Uber का व्यापार अस्त-व्यस्त करने का प्रयास किया और इसी के लिये भरपाई की मांग भी करी गयी। Uber ने दावा किया कि उन्हें इस कार्य से करीब ₹50 करोड़ का नुक़सान हुआ और उन्होंने याचिका में “घोषणा, परपेचुअल इंजंक्शन और भरपाई” की मांग करी।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन