खबर डिजिटल इंडिया मेक इन इंडिया स्टार्टअप्स

स्टार्टप शुरू करने में समस्या ? संपर्क करें ट्विटर सेवा – छोटे एवं मध्यम उद्यमियों के लिये सरकारी हॉटलाइन

एक उद्यमी को अनेक समस्याएं सुलझानी पड़ती हैं – न केवल अपने प्रोडक्ट से संबंधित उपभोगताओ की कंप्लेन के रूप में, बल्की कंपनी को सेटप करने के लिये भी और कंपनी स्थापित करते समय भी। इनमें नियमों से जूझना, मार्गदर्शक ढूंढ़ना, वेंचर कैपिटलिस्टों को कॉल करना आदि शामिल हैं।

भारत सरकार ऐसी ही समस्याओं से निपटने के लिये माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट Twitter पर उद्यमियों के लिये एक हॉटलाइन शुरू कर रही है, जो कि 21 अप्रैल को चालू हो जायेगी।

Twitter Seva नाम कि यह हॉटलाइन 21 अप्रैल को लांच हो जायेगी। ये उद्यमियों को निवेश समेत सरकार से कोई भी समस्या सुलझाने के लिये संपर्क करने में सहायता करेगी।

ये सोशल मीडिया द्वारा बहुत ही ऐक्टिव परेशानी सुलझाने की सेवा है, क्योंकि जिन उद्यमियों को सरकार केटर करती है, उनमें से अधिकांश सोशल मीडिया पर हैं और उनकी समस्या को सुलझाने के लिये Twitter का प्रयोग करना समझ में आता है।

नाम गुप्त रखने की शर्त पर एक सरकारी अधिकारी ने कहा।

कॉमर्स व इंडस्ट्री के कुछ वरिष्ठ अधिकारी Twitter Seva के लिये ज़िम्मेदार रहेंगे। वे स्टार्टपों को वेंचर कैपिटलिस्टों, इंक्युबेशन सेंटरों और दूसरे स्टेकहोल्डरों से जुड़ने में सहायता करेंगे। ये क्लियरेंस पाने के लिये भी उनका मार्गदर्शन करेंगे।

सेवा को रेलवे व पॉवर मंत्रालय के Twitter का प्रयोग कर उपभोगताओं से जुड़ने और आम लोगों से बात करने के लिये करे गये प्रयोग की सफलता से प्रेरित होकर लाया जा रहा है।

सरकार अभी भी अपने अधिकारिक Twitter अकाउंट से ये कार्य कर रही है, पर ये अधिकतम मैनुअल है, जहां मंत्रियों को रोज़ अपना ट्विटर चेक कर प्रश्न को संबंधित अधिकारियों कर भेज देना होता है और फिर वे वापस लोगों तक जवाब लेकर आते हैं।

Twitter Seva एक पूरी तरह स्वचलित सॉफ़्टवेर से चलेगी, जो कि उपभोगताओं के प्रश्न को रियल समय में सबंधित अधिकारी तक पहुंचा देंगे। ये अधिकारी फिर समाधान के साथ प्रश्न पूछने वालों को जवाब भेजेंगे।

‘स्टार्टप इंडिया, स्टैंडप इंडिया’ मुहिम के तहत देश में स्टार्टपों व उद्यम को बढ़ावा देने के लिये ये सरकार का एक और प्रयास है। हाल ही में Department of Industrial Policy and Promotion (DIPP) ने भी इसी से संबंधित एक कोंद्रित वेब पोर्टल और मोबाइल ऐप का लांच किया।

ये सिटार्टपों के लिये एक दिन में अनेक कार्य निपटाने के लिये सहायक होगा – जैसे एक दिन में पंजिकरण, क्लियरेंस व अप्रूवल प्राप्त करना, कर लाभों के और इंक्युबेशन फ़ैसिलिटियों के बारे में जानकारी लेना और पोर्टल के ज़रिये स्टार्टप इंडिया स्टैंडप इंडिया संबंधित स्कीमों के लिये आवेदन देना।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन