खबर डिजिटल इंडिया

भारत सरकार नेट न्यूट्रैलिटी पॉलिसी को पूरा करने के अंतिम दौर में, TRAI से मांगे सुझाव

नेट न्यूट्रैलिटी पिछले कुछ महीनों से भारत में एक चर्चा का विषय बना हुआ है। भले ही नेट न्यूट्रैलिटी कार्यकरताओं ने TRAI के विवादित Free Basics और Airtel Zero जैसे शून्य रेटिंग प्रोग्रामो को बैन किया, पर भारत में इससे संबंधित कोई स्थाई पॉलिसी अभी आनी बाकी है।

अब भारत सरकार नेट न्यूट्रैलिटी पॉलिसी को लांच करने के अंतिम चरण में है और उन्होंने इसी संबंध में TRAI व भारतीय टेलेकॉम मंत्रालय से सुझाव मांगे हैं।

हमें नेट न्यूट्रैलिटी पर सुझाव देने के लिये DoT (टेलेकॉम विभाग) से पत्र मिला है और हम जल्द ही इसपर विचार पत्र निकालेंगे।

TRAI चेयरमैन आर.एस. शर्मा ने कहा।

प्रधान मंत्री कार्यालय ने टेलेकॉम मंत्री रवी शंकर प्रसाद के अंडर एक तीन लोगों का पैनल स्थापित किया है जो खुले इंटरनेट से जुड़े मुद्दे पर ध्यान देंगे। यह सोचने वाली बात है कि TRAI का यह सुझाव पत्र इनके पिछले सुझाव पत्र (पूर्व TRAI चेयरमैन राहुल खुल्लार के अंडर) को ओवरराइड कर देगा।

पत्र को WhatsApp, Skype, Viber, आदि जैसे ओवर-द-टॉप खिलाड़ियों के नियंत्रण संबंधित सुझावों पर नेट न्यूट्रैलिटी के समर्धकों से कड़ी निंदा मिली थी।

नये पत्र में, TRAI, नेट न्यूट्रैलिटी की पूरी परिभाषा देने के साथ, कुछ ऐसे मुद्दों को केंद्र बनायेगी जो पिछले कुछ महीनों में सामने आये हैं। इनमें सेवा उपलब्ध करवाने वालों द्वारा विविध साइटों के लिये विवध स्पीड उपलब्ध कराने और डेटा को ब्लॉक करने व तवज्जो देने जैसे मुद्दे शामिल होंगे।

टेल्कॉम विभाग(DoT) ने पिछले साल दी गयी रिपोर्ट में पहले ही इन मुद्दों का वर्णन किया था। Facebook के internet.org की निंदा करने के साथ शून्य-रेटिंग प्लानों को अनुमती न देने और इंटरनेट ट्रैफ़िक के तवज्जोकरण व थ्रॉटलिंग पर बैन लगाने के सुझाव भी दिये गये थे।

OTT सेवाओं के मुद्दे पर, जिनपर टेलेकॉम ऑपरेटरों ने अधिकतम रेवेन्यू खा जाने का आरोप लगाकर उनकी निंद करी थी, DoT ने ‘नियंत्रक दृष्टी’ रखने का सुझाव दिया था।

क्योंकि TRAI ने पहले ही विविध डेटा दामों और Free Basics जैसी सेवाओं पर बैन लगा दिया है, हम एक बहतर कंसल्टेशन पत्र की उम्मीद कर सकते हैं, जो कि अंत में नेट न्यूट्रैलिटी से संबंधित सरकारी पॉलिसी बने।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन