खबर स्मार्टफोन्स

रिलायंस जियो T-20 विश्व कप के दौरान देगा छः स्टेडियमों में 4G वाई-फ़ाई

विश्व कप T-20 प्रारंभ हो चुका है, और जो स्टेडियम जाकर मैच देखने वाले हैं, उनको Reliance की तरफ़ से मिलेगा विशेष उपहार। अपने 4G नेट्वर्क का प्रचार करने के लिये, Reliance Jio छः स्टेडियमों में बिना ऊपरी लिमिट के मुफ़्त वाई-फ़ाई उपलब्ध करायेंगे।

यह स्टेडियम हैं कलकत्ता का ईडन गार्डेन, मुंबई का वानखेड़े, दिल्ली का फ़िरोज़ शाह कोटला, बेंगलुरु का चिन्नस्वामी स्टेडियम, मोहाली का आई.एस. बंद्रा और धर्मशाला का HPCA स्टेडियम। कंपनी ने औसतन इन स्टेडियमों में कुल 650 हाई स्पीड वाई-फ़ाई ऐक्सेस प्वॉइंट लगाये हैं।

ईडन गार्डन में करीब 60,000 दर्शक बैठ सकते हैं, तो यहां करीब 1100 ऐक्सेस प्वॉइंट लगाये गये हैं, वहीं फ़िरोज़ शाह कोटला जहां 40,000 दर्शक बैठ सकते हैं, में 668 ऐसे प्वॉइंट हैं। कुल इन स्टेडियमों में 2,26,000 दर्शकों के बैठने की जगह है जिनके रजिस्ट्रेशन पर इस सेवा का कमर्शियल रोल आउट निर्भर करेगा।

नेट्वर्क को 100GBps का सपोर्ट मिलेगा, जिससे स्टेडियम भरा होने के बाद भी इसकी 5-15 Mbps की स्पीड आयेगी। और हां, यह सेवा पूरी तरह मुफ़्त होगी और वो भी बिना ऊपरी हद के।

यह क्योंकि कंपनी के मुताबिक, स्मार्टफ़ोनों की बैटरी रीचार्ज करने में आने वाली परेशानी के कारण इसपर ऊपरी लिमिट लगाना सही नहीं था।

हम चाहते हैं कि उपभोगता सेवा की गुणवत्ता का अनुभव कर सकें। इससे वह ऐसा कर सकेंगे और हमारे प्रोडक्ट के लांच के समय इसकी डिमांड अधिक ही रहेगी।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा।

Reliance ने पहले भी इस सेवा का पायलट एक बार 2015 में भारत ऑस्ट्रेलिया के मैच के दौरान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में किया था।

कंपनी के मुताबिक इसके प्रति प्रतिक्रिया बहतरीन थी और करीब 30,000 लोगों ने इस सेवा के लिये सब्स्क्राइब किया और उनमें से 20,000 ने इसे मैच के दौरान प्रयोग किया। नेट्वर्क से 35Mbps की स्पीड पर 4 घंटों में 2.2 टेराबाइट डेटा प्रयोग हुआ।

कंपनी ने पिछले साल दिसंबर में इसका सॉफ़्ट लांच किया था पर इसका कमर्शियल लांच होना अभी बाकी है। इन्होंने अपने कर्मचारियों को मुफ़्त सिम कार्ड बांटे हैं और JioNet वाई-फ़ाई कुछ हवाई अड्डों और यात्री अट्रैक्शनो पर उपलब्ध है।

कंपनी कॉलेजों, विश्वविद्यालयों और नगर निगमों से मुफ़्त वाई-फ़ाई उपलब्ध कराने को लिये बात भी कर रही है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन