खबर स्टार्टअप्स

टायगर ग्लोबल ने द वायरल फ़ीवर में किया $10 मिलियन का निवेश

तो आप ‘Permanent Roommates’ और ‘Qtiyapa’ के पीछे पागल हैं? भारत में इन वाइरल और खेल पलटने वाले वेब्शोस को बनाने वाले The Viral Fever को Tiger Global से $10 मिलियन (₹65.6 करोड़) का निवेश मिलने की ख़बर आयी है। सत्र को सार्वजनिक नहीं किया गया था और इसका हाल ही में LiveMint के इनकी RoC फ़ाइलिंग में देखने पर पता चला है।

निवेश को Contagious Online Media Network Pvt. Ltd. में डाला गया, जो कि पिछले वर्ष जुलाई में बनायी गयी थी। कागज़ों के मुताबिक, Tiger Global ने इसमें 25% हिस्सेदारी ख़रीद ली थी जिससे इनकी कुल कीमत $40 मिलियन के कुछ ऊपर हो गयी है (₹270 करोड़ के करीब)।

The Viral Fever या TVF, IIT के अरुणभ कुमार के दिमाग की उपज थी जिससे बाद में अमित गोलानी और बिस्वपती सरकार जुड़ गये। और हमें इनके बारे में अधिक बताने की ज़रूरत भी नहीं है, ब्रांड Qtiyapa और Barely Speaking with Arnub – Times Now के चिल्लाने में माहिर अर्णब गोस्वामी पर सटायर टेक जैसे शो बनाने के लिये और TVF Pitchers और Permanent Roommates जैसी ओरिजनल ऑनलाइन सिरीज़ बनाने के लिये ज़िम्मेदार है।

फ़ाइलिंग के मुताबिक, कंपनी की अभिभावक, Contagious Online Media ने 2 अगस्त और 21 अक्टूबर की समयवधि में ₹64 लाख के रेवेन्यू पोस्ट करे, जिनमें ₹22 लाख का लाभ था।

Tiger Global के लिये ऑनलाइन विडियो कंटेंट क्रियेशन स्पेस में यह दूसरा और डिजिटल मीडिया स्पेस में तीसरा बड़ा निवेश था। वेंचर कैपिटल फ़ंड, जिनके पोर्टफ़ोलियो में पहले ही करीब 50 भारतीय कंपनियां हैं, ने इससे पहले Culture Machine को करीब $18 मिलियन का निवेश दिया था। स्टार्टप नये ज़माने के विडियो प्रचारों से ब्रांड इमेज सुधारता है। यह ऐसा यह क्रियेटरों और उनके फ़ैनों की सहायता से ब्रांडों के YouTube चैनल पर और व्युअर लाकर करते हैं।

Culture Machine, Being Indian और अनेक ऐसे चैनल YouTube पर चलाती है।

पिछले साल Tiger Global ने InShorts मे भी निवेश किया था – एक 60 शब्दों में ख़बर संक्षेप में बताने वाला। स्टार्टप को इससे पहले स्वयं Tiger Global से ही $4 मिलियन और बी सत्र के निवेश में $20 मिलियन प्राप्त हुए थे।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन